बांग्लादेश में हिंसा, माता दुर्गा की मूर्ति तोड़ तालाब में फेंकी गई, हिंदू काउंसिल का दावा

By दीप्ती कुमारी | Published: October 14, 2021 02:43 PM2021-10-14T14:43:35+5:302021-10-14T14:51:27+5:30

बांग्लादेश में दुर्गा पूजा के दौरान अराजकता की स्थिति देखने को मिली है , जहां पंडालों में भीड़ द्वारा दुर्गा मां की प्रतिमा तोड़ने और तालाब में फेंकने की तस्वीरें सामने आ रही है ।

durga idol vandalised thrown in pond as angry mob vandalises puja pandals in bangladesh scandalous says hindu council | बांग्लादेश में हिंसा, माता दुर्गा की मूर्ति तोड़ तालाब में फेंकी गई, हिंदू काउंसिल का दावा

फोटो सोर्स - सोशल मीडिया

Next
Highlightsबांग्लादेश में दुर्गा मां की प्रतिमा के साथ तोड़फोड़ की खबर सामने आ रही है इस घटना के बाद देश के कई क्षेत्रों में अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गईहिंदू परिषद ने कहा - हम 2021 दुर्गा पूजा कभी नहीं भूलेंगे

ढाका : बांग्लादेश के कई इलाके से दुर्गा पूजा के अवसर पर निंदनीय खबर आ रही है । भारत के पड़ोसी राज्य में दुर्गा पूजा पंडालों और मूर्तियों पर हमलों की कई घटनाएं सामने आई हैं । पिछले 24 घंटों में देश के विभिन्न हिस्सों में दुर्गा प्रतिमाओं के साथ तोड़फोड़ की कम से कम तीन घटनाएं सामने आई हैं ।

कोमिला के नानुआ दिघी में  बुधवार शाम को घटी एक घटना में  एक दुर्गा पूजा पंडाल पर भीड़ ने हमला किया था । देवी दुर्गा के चरणों में पवित्र कुरान की एक प्रति रखे जाने की खबरों पर भीड़ के उग्र होने के बाद मूर्ति को कथित तौर पर एक तालाब में फेंक दिया गया था ।

एक व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया, व्हाट्सएप पर कथित तौर पर भड़काऊ तस्वीरें साझा करने के बाद अराजकता फैल गई । खबरों के मुताबिक, दुर्गा प्रतिमा को तोड़ने के लिए भगदड़ मचाने वाली गुस्साई भीड़ को पुलिस काबू नहीं कर पाई और प्रतिमा को  एक तालाब में फेंक दिया गया । 

घटना की तस्वीरें बांग्लादेश हिंदू एकता परिषद द्वारा साझा की गईं, जिसमें कहा गया था - "पूजो हो गया ... से: कोमिला ननुयार दिघी पूजा मंडप । हम 2021 की दुर्गा पूजा को कभी नहीं भूलेंगे । माँ दुर्गा आप सभी का भला करें ।" एक ट्विटर यूजर के सवाल के जवाब में कि दुर्गा अष्टमी पर मूर्तियों को क्यों विसर्जित किया गया, परिषद ने जवाब दिया, "टूटी हुई मूर्तियों की पूजा नहीं की जा सकती ।"

परिषद ने आगे कहा कि "बांग्लादेश के इतिहास में एक निंदनीय दिन  ।  हम एक ट्वीट में बयां नहीं कर सकते हैं कि पिछले 24 घंटों में क्या हुआ है । बांग्लादेश के हिंदुओं ने कुछ लोगों के असली चेहरे देखे । हमें नहीं पता कि भविष्य में क्या होगा लेकिन बांग्लादेश के हिंदू 2021 की दुर्गा पूजा को कभी नहीं भूलेंगे..."।

इससे पहले चटगांव, कुस्तिया और जॉयपुरहाट के कोतवाली में भी इसी तरह की घटनाएं सामने आई थीं । इससे लोगों में आक्रोश और दुख की भावना दोनों है , देश के लोग पीएम से पंडालों में सुरक्षा की मांग कर रहे हैं । 
 

Web Title: durga idol vandalised thrown in pond as angry mob vandalises puja pandals in bangladesh scandalous says hindu council

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे