Crew Dragon undocks from ISS, headed back to Earth, SpaceX Dragon Crew departs for Earth from International Space Station | SpaceX ड्रैगन क्रू अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से धरती के लिए रवाना, अंतरिक्ष यात्रियों ने समुद्र में उतरने के लिए की तैयारी
अंतरिक्ष यात्री बॉब बेह्नकेन (49) और डग हर्ली (53) ने स्पेस स्टेशन से ड्रैगन कैप्सूल को अलग कर लिया है और अब वह धरती की तरफ बढ़ रहे हैं।

Highlights नासा और स्पेसएक्स का ड्रैगन क्रू अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से धरती के लिए रवाना हो गया है। इस प्रक्रिया के शुरू होने पर नासा ने कहा कि हम इस वापसी को लेकर बेहद रोमांचित हैं

केप केनवरल:नासा और स्पेसएक्स का ड्रैगन क्रू अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से धरती के लिए रवाना हो गया है। इससे अंतरिक्ष में गए दो अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री  Robert Behnken और Douglas Hurley धरती की तरफ बढ़ रहे हैं। इस प्रक्रिया के शुरू होने पर नासा ने कहा कि हम इस वापसी को लेकर बेहद रोमांचित हैं और स्पेसएक्स ड्रैगन क्रू के सुरक्षित पहुंचने की कामना करते हैं।

अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने इस बारे में ट्वीट करके जानकारी दी है कि स्पेसएक्स ड्रैगन एंडेवर अंतरिक्ष से निकल चुका है और धरती पर आ रहा है। इसके बाद नासा ने एक और ट्वीट करके कहा कि ड्रैगन क्रू कैप्सूल स्पेस स्टेशन के चारों ओर मौजूद अप्रोच एलिपसॉइड से बाहर निकल गया है और सुरक्षित स्थान पर है।

स्पेसएक्स और नासा 45 वर्ष में पहली बार किसी अंतरिक्षयात्री को सीधे समुद्र में उतारने जा रहा है। फ्लाइट कंट्रोलर्स चक्रवात इसाइएस पर करीब से नजर रख रहे हैं, जिसके फ्लोरिडा के पूर्वी तट पर आने की आशंका है और जहां उन्हें उतारने की योजना है, वह स्थान फ्लोरिडा के करीब है। हर्ले ने कहा कि अगर वह और बेनकेन लहरों में बहते हुए बीमार पड़ गए तो यह चालक दल के लिए कोई नई बात नहीं होगी। इससे पहले 1970 में स्काईलैब से आने वाले अंतरिक्षयात्री भी समुद्र में उतरने के बाद बीमार पड़ गए थे। हर्ले ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से चालक दल के अंतिम संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पानी में लैंड करने पर बीमार महसूस करना साधारण बात है।

स्पेसएक्स के कैप्सूल में समुद्र में उतरने के लिए तैयारी की

यह स्पेसएक्स का अतंरिक्षयात्रियों को सीधे समुद्र में लैंड कराने का पहला मौका है। लैंडिंग के साथ ही 30 मई को नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से शुरू हुई दो माह की टेस्ट फ्लाइट का समापन हो जाएगा। करीब एक दशक के बाद अमेरिका से किसी चालक दल की यह पहली उड़ान थी। अंतरिक्षयात्रियों को ले जाने वाला कैप्सूल 31 मई से अंतरिक्ष स्टेशन पर है। हर्ले ने कहा कि ड्रैगन के आपातकाल तथा अन्य उपकरणों की ठीक तरह से जांच कर ली गई है। 

लांच और गंतव्य तक पहुंचने में कोई बाधा नहीं हुई तो हम उम्मीद कर रहे हैं कि सागर में उतरने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी। ड्रैगन कैप्सूल करीब एक घंटे तक पानी में रहेगा और इसके बाद इसे एक क्रेन के जरिए निकाल कर स्पेसएक्स रिकवरी शिप पर रखा जाएगा। इस दौरान फ्लाइट सर्जन और रिकवरी दल के सदस्य मौजूद रहेंगे। बेनकेन ने संवाददाताओं से कहा कि जब तक हमारे पास लैंडिंग के बेहतर विकल्प नहीं होंगे हम अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना नहीं होंगे। स्प्लैशडाउन के लिए मौसम अच्छा है।

इसरो ने  दी नासा और स्पेसएक्स को बधाई

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने नासा और स्पेसएक्स को उनके मानव युक्त मिशन के लिए आज बधाई दी और इसे ऐतिहासिक बताया। इसरो ने ट्वीट किया, ''2011 के बाद पहला ऐतिहासिक मानव युक्त मिशन लांच करने के लिए नासा और स्पेसएक्स को बधाई। बेहतरीन काम।'' 

Web Title: Crew Dragon undocks from ISS, headed back to Earth, SpaceX Dragon Crew departs for Earth from International Space Station
विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे