चीनी वैज्ञानिकों के दावे ने और बढ़ाई चिंता, कहा-24 तरह के कोरोना वायरस ढूंढे, चार बिलकुल SARS-CoV-2 जैसे

By अभिषेक पारीक | Published: June 12, 2021 08:25 PM2021-06-12T20:25:25+5:302021-06-12T20:38:10+5:30

चीन के शोधकर्ताओं ने अब जो दावा किया है, उसने चिंता और बढ़ा दी है। चीनी शोधकर्ताओं ने कहा है कि हमने 24 तरह के नोवल कोरोना वायरस जीनोम का पता लगाया है। इनमें से चार SARS-CoV-2 जैसे हैं। 

Chinese researchers find 24 novel coronavirus genomes from different bat species | चीनी वैज्ञानिकों के दावे ने और बढ़ाई चिंता, कहा-24 तरह के कोरोना वायरस ढूंढे, चार बिलकुल SARS-CoV-2 जैसे

प्रतीकात्मक तस्वीर

Next
Highlightsचीन के शोधकर्ताओं ने 24 तरह के नोवल कोरोना वायरस का पता लगाने का दावा किया है। चीन के शांडोंग यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं की यह रिपोर्ट सैल जर्नल में प्रकाशित हुई है। शोधकर्ताओं ने कहा कि जेनेटिक तौर पर एक वायरस SARS-CoV-2 से काफी मिलता है। 

कोरोना वायरस ने दुनिया को हिला कर रख दिया है। वैश्विक स्तर पर चीन से फैला यह वायरस अब भी रोजाना कई हजार लोगों की मौत का कारण बन जाता है। हालांकि चीन के शोधकर्ताओं ने अब जो दावा किया है, उसने चिंता और बढ़ा दी है। चीनी शोधकर्ताओं ने कहा है कि हमने 24 तरह के नोवल कोरोना वायरस जीनोम का पता लगाया है। इनमें से चार SARS-CoV-2 जैसे हैं। 

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के शोधकर्ताओं ने चमगादड़ों में एक नए तरह के वायरस का पता लगाने की बात कही है। उनका कहना है कि जेनेटिक तौर पर यह वायरस कोविड-19 महामारी के लिए जिम्मेदार वायरस के काफी करीब है। साथ ही उन्होंने कहा है कि दक्षिण पश्चिम चीन में कोरोना वायरस की नई खोज से ज्ञात हुआ है कि चमगादड़ों में ऐसे कई तरह के कोरोना वायरस हो सकते हैं और यह इंसानों को भी संक्रमित करने में सक्षम हैं। 

सैल जर्नल में प्रकाशित हुई रिपोर्ट

चीन के शांडोंग यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं की यह रिपोर्ट सैल जर्नल में प्रकाशित हुई है। जिसमें शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि उन्होंने 24 तरह के नोवेल कोरोना वायरस इकट्ठा किए हैं। इनमें से चार बिलकुल SARS-CoV-2 की तरह हैं। शोधकर्ताओं ने मई 2019 से 2020 के मध्य जंगलों मे रहने वाले चमगादड़ों के पेशाब और मल की जांच के साथ ही मुंह के स्वैब का भी सैंपल लिया।

चमगादड़ों में वायरस का प्रसार बहुत ज्यादा

शोधकर्ताओं ने कहा है कि चमगादड़ों में नए कोरोना वायरस का एक बैच मिला है। इसमें ऐसा वायरस शामिल है जो कि आनुवांशिक रूप से कोविड-19 के आनुवांशिक रूप से सबसे करीब हो सकता है। सार्स-सीओवी-2 ने ही पूरी दुनिया को परेशान कर रखा है। उन्होंने शोध में बताया है कि जून 2020 में थाइलैंड में मिले SARS-CoV-2 को लेकर परिणाम साबित करते हैं कि कोरोना वायरस का चमगादड़ों में प्रसार बहुत ज्यादा है। इससे पता चलता है कि कुछ इलाकों में वायरस के फैलने की आवृत्ति बहुत तेज हो सकती है। 

चीन से फैला कोरोना वायरस!

गौरतलब है कि चीन कोरोना वायरस को लेकर दुनिया के निशाने पर है। चीन से ही दुनिया के दूसरे हिस्सों तक यह जानलेवा वायरस पहुंचा था। हालांकि इसकी उत्पत्ति को लेकर कई दावे किए जा रहे हैं और शंका जताई जा रही है। वुहान स्थित लैब से कोरोना वायरस के फैलने की बात को लेकर लगातार जांच की मांग की जा रही है। 

Web Title: Chinese researchers find 24 novel coronavirus genomes from different bat species

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे