ओलंपिक बहिष्कार पर चीन की अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन को धमकी, कहा- गलत कामों की कीमत चुकानी पड़ेगी

By विशाल कुमार | Published: December 9, 2021 03:18 PM2021-12-09T15:18:55+5:302021-12-09T15:23:09+5:30

चीनी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया ने राजनीतिक हेरफेर के लिए ओलंपिक मंच का इस्तेमाल किया है। उन्हें अपने गलत कामों की कीमत चुकानी पड़ेगी।

china-says-australia-britain-us-pay-price-wrong-acts | ओलंपिक बहिष्कार पर चीन की अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन को धमकी, कहा- गलत कामों की कीमत चुकानी पड़ेगी

ओलंपिक बहिष्कार पर चीन की अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन को धमकी, कहा- गलत कामों की कीमत चुकानी पड़ेगी

Next
Highlightsअमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन ने चीन में होने वाले शीतकालीन ओलंपिक का बहिष्कार किया है।चीन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका अपने गलत कामों की कीमत चुकाएंगे।

बीजिंग:चीन के विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि बीजिंग में फरवरी के शीतकालीन ओलंपिक में सरकारी प्रतिनिधिमंडल नहीं भेजने का फैसला करने के बाद ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका अपने गलत कामों की कीमत चुकाएंगे।

दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच तनाव को कम करने के उद्देश्य से चीन से बातचीत करने के कुछ हफ्तों बाद अमेरिका ने सबसे पहले बहिष्कार की घोषणा की थी और सोमवार को कहा था कि उसके सरकारी अधिकारी चीन के मानवाधिकारों पर अत्याचार के कारण 4-20 फरवरी तक होने वाले खेलों में शामिल नहीं होंगे।

चीनी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया ने राजनीतिक हेरफेर के लिए ओलंपिक मंच का इस्तेमाल किया है। उन्हें अपने गलत कामों की कीमत चुकानी पड़ेगी।

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासन के दौरान चीन और अमेरिका के बीच संबंध तेजी से बिगड़े थे और बाइडेन प्रशासन ने चीन पर दबाव बनाए रखा है।

दोनों देशों के बीच कोरोना वायरस की उत्पत्ति और दक्षिण चीन सागर में चीन के समुद्री दावों सहित कई मुद्दों पर तनातनी चल रही है।

वहीं, ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा कि खेलों में अधिकारियों को नहीं भेजने का उनका निर्णय शिनजियांग के सुदूर पश्चिमी क्षेत्र में मानवाधिकारों पर उठते सवालों और ऑस्ट्रेलियाई आयात को रोकने वाले चीन के कदमों के कारण किया गया।

चीन ने शिनजियांग में किसी भी तरह की गड़बड़ी से इनकार किया है, जहां उइगर मुस्लिम अल्पसंख्यक हैं और कहा कि मानवाधिकार हनन के आरोप मनगढ़ंत हैं।

बुधवार को अमेरिकी संसद ने जबरन श्रम के बारे में चिंता को लेकर झिंजियांग से आयात पर प्रतिबंध लगाने के लिए कानून पारित किया।

Web Title: china-says-australia-britain-us-pay-price-wrong-acts

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे