ब्रिटेन में 80 फीसद वैक्सीनेशन के बावजूद कोरोना की तीसरी लहर, वैक्सीन की डोज से यह पड़ा असर

By अभिषेक पारीक | Published: June 19, 2021 09:15 PM2021-06-19T21:15:14+5:302021-06-19T21:19:00+5:30

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर थम रही है तो उधर ब्रिटेन में डेल्टा स्वरूप के चलते कोविड-19 की तीसरी लहर जारी है।

Britain: Despite 80 percent vaccination third wave of corona | ब्रिटेन में 80 फीसद वैक्सीनेशन के बावजूद कोरोना की तीसरी लहर, वैक्सीन की डोज से यह पड़ा असर

फाइल फोटो

Next
Highlightsब्रिटेन में डेल्टा स्वरूप के चलते कोविड-19 की तीसरी लहर जारी है।फिन ने कहा कि देश में टीकों और कोविड-19 के डेल्टा स्वरूप के बीच प्रतिस्पर्धा है।सबसे पहले भारत में डेल्टा स्वरूप की पहचान की गई थी।

लंदनः भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर थम रही है तो उधर ब्रिटेन में डेल्टा स्वरूप के चलते कोविड-19 की तीसरी लहर जारी है। टीकाकरण कार्यक्रम पर सरकार को सलाह देने वाले एक विशेषज्ञ ने शनिवार को यह जानकारी दी। टीकाकरण एवं प्रतिरक्षण पर संयुक्त समिति (जेसीवीआई)को सलाह देने वाले प्रोफेसर एडम फिन ने बीबीसी से कहा कि देश में अब टीकों और कोविड-19 के डेल्टा स्वरूप के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा चल रही है। सबसे पहले भारत में डेल्टा स्वरूप की पहचान की गई थी। गौरतलब है कि यह स्थिति तब है, जब ब्रिटेन में 80.6 फीसद वयस्क आबादी को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 10,476 नए मामले सामने आए हैं। 

प्रोफेसर फिन ने कहा, 'यह फैलता जा रहा है, शायद हम कुछ आशावादी हो सकते हैं कि यह तेजी से नहीं फैल रहा है, लेकिन फिर भी यह फैल रहा है। इस तरह, निश्चित तौर पर तीसरी लहर जारी है।' उन्होंने कहा, 'हम इस निष्कर्ष पर पहुंच सकते हैं कि टीकाकरण कार्यक्रम, खासतौर पर वृद्ध लोगों को दूसरी खुराक देने, और डेल्टा स्परूप के तीसरी लहर के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा चल रही है।' उन्होंने कहा, 'जितनी जल्द हम वृद्ध लोगों को दूसरी खुराक दे देंगे, इस बार हम अस्पताल में उतनी कम संख्या में लोगों को भर्ती होते देखेंगे।'

प्रत्येक 540 में से एक डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के नवीनतम आंकड़ों से यह प्रदर्शित होता है कि प्रत्येक 540 संक्रमितों में एक मरीज डेल्टा स्वरूप से संक्रमित है जो देश में अब सबसे तेजी से फैलने वाला वायरस का स्वरूप बन गया है। 

वैक्सीन की डोज घटा रही संक्रमण

पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड के नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक टीके की एक खुराक किसी व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने और अस्पताल में इलाज कराने की की संभावना,यहां तक कि डेल्टा स्वरूप से संक्रमित होने की स्थिति में भी, 75 प्रतिशत घटा देती है। 

अस्पताल में भर्ती होने की संभावना 90 फीसद कम

साथ ही , टीके की दोनों खुराक ले चुके लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने और अस्पताल में भर्ती होने की संभावना 90 प्रतिशत से अधिक घट जाती है। इस बीच, डेल्टा स्वरूप के प्रसार का पता लगाने के लिए दक्षिण लंदन सहित इंग्लैंड के अन्य हिस्सों में जांच बढ़ा दी गई है। 

Web Title: Britain: Despite 80 percent vaccination third wave of corona

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे