उत्तर कोरिया में कोरोना दिखाने लगा अपना असर, 'बुखार' से 6 की मौत, अमेरिका ने टीका भेजने से किया इनकार

By अनिल शर्मा | Published: May 13, 2022 08:48 AM2022-05-13T08:48:27+5:302022-05-13T08:51:27+5:30

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने शहरों और काउंटी में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है। कोविड-19 वैश्विक महामारी फैलने के दो साल से अधिक समय बाद उत्तर कोरिया में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की गई है।

6 dead of fever as Covid hits North Korea US says no current plans to share vaccines with the nation | उत्तर कोरिया में कोरोना दिखाने लगा अपना असर, 'बुखार' से 6 की मौत, अमेरिका ने टीका भेजने से किया इनकार

उत्तर कोरिया में कोरोना दिखाने लगा अपना असर, 'बुखार' से 6 की मौत, अमेरिका ने टीका भेजने से किया इनकार

Next
Highlights कई लोगों में कोरोना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है2.6 करोड़ की आबादी वाले देश में अधिकतर लोगों को कोविड-19 रोधी टीके नहीं लगे हैं

सियोलः उत्तर कोरिया में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि करने के बाद देश में मरीजों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है। वहीं संक्रमण का असर भी दिखने लगा है। उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को कहा कि बुखार से बीमार छह लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से एक कोविड -19 के ओमीक्रॉन स्वरूप का मरीज था। समाचार एजेंसी एएफपी ने उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) के हवाले से इसकी जानकारी दी है। 

बुखार ने लिया विस्फोटक रूप

रिपोर्ट में बताया गया है कि एक बुखार जिसके कारणों का पता नहीं लगाया जा सका है, अप्रैल के अंत में देशभर में फैल गया। इससे 6 लोगों की मौत भी हो गई है। वहीं इनमें से एक ओमीक्रॉन से ग्रसित था। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के मुताबिक बुखार ने विस्फोटक रूप ले लिया है। अब तक 187,800 लोगों का क्वारंटीन में इलाज किया जा रहा है। वहीं लगभग 350,000 लोगों में इस बुखार के लक्षण दिखाई दिए हैं, जिनमें 18,000 लोगों में इसके लक्षण मंगलवार को सामने आए। बताया गया कि लगभग 162,200 का अब तक इलाज किया जा चुका है, लेकिन इसने यह निर्दिष्ट नहीं किया कि कितने लोगों ने COVID-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया था।

उत्तर कोरिया में अधिकतर लोगों को टीके नहीं लगे हैं

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने शहरों और काउंटी में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है। कोविड-19 वैश्विक महामारी फैलने के दो साल से अधिक समय बाद उत्तर कोरिया में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की गई है। केसीएनए ने बताया कि राजधानी प्योंगयांग में जांच के लिए रविवार को कुछ लोगों के नमूने लिए गए थे, जिनके कोरोना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। ‘केसीएनए’ ने बताया कि संक्रमण के मामले सामने आने के बाद देश के नेता किम जोंग-उन ने शहरों और काउंटी में पूर्ण लॉकडाउन लगा दिया है। ऐसा कहा जाता है कि 2.6 करोड़ की आबादी वाले देश में अधिकतर लोगों को कोविड-19 रोधी टीके नहीं लगे हैं।

अमेरिका ने टीका देने से इनकार किया

 उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र समर्थित ‘कोवैक्स’ टीका वितरण कार्यक्रम से मदद लेने का प्रस्ताव ठुकरा दिया था। वहीं अब अमेरिका ने कहा है कि उत्तर कोरिया के साथ टीकों को साझा करने की कोई योजना नहीं है। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जेन साकी ने गुरुवार को रॉयटर्स से कहा कि  उत्तर कोरिया के साथ कोविड -19 टीके साझा करने की उसकी अब कोई योजना नहीं है। प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर कोरिया ने COVAX वैश्विक वैक्सीन साझाकरण परियोजना से वैक्सीन वितरण से बार बार इनकार किया था।

 

Web Title: 6 dead of fever as Covid hits North Korea US says no current plans to share vaccines with the nation

विश्व से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे