Narendra Modi portrayed as Shivaji Maharaj, Amit Shah as Tanaji by morphing a clip Tanhaji | 'तानाजी' की मॉर्फ वीडियो क्लिप में पीएम मोदी को शिवाजी, केजरीवाल को खलनायक के रूप में दिखाया गया, वायरल वीडियो पर बवाल
तस्वीर स्त्रोत- ट्विटर

Highlightsविवाद शुरू होने के बाद भाजपा ने वीडियो क्लिप से दूरी बनाते हुए कहा कि इसका उनकी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है.भाजपा नेता राम कदम ने आरोप लगाया कि शिवसेना नेता राऊत इस मुद्दे को इसलिए उठा रहे हैं ताकि वह कांग्रेस नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण से संबंधित सवालों के जवाबों से बच सकें.

हिंदी फिल्म 'तानाजी- द अनसंग वॉरियर' के एक हिस्से की मॉर्फ की गई क्लिप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को छत्रपति शिवाजी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को उनके विश्वस्त सहयोगी तानाजी तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को खलनायक के रूप में दिखाया गया है. इसको लेकर दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले विवाद खड़ा हो गया है. यह क्लिप ऐसे समय में सामने आई है जब कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छत्रपति शिवाजी से तुलना करने वाली एक किताब से महाराष्ट्र में बड़ा विवाद खड़ा हो गया था. यह किताब भाजपा के एक नेता ने लिखी है.

मॉर्फ यानी छेड़छाड़ और संपादित करके बनाए गए वीडियो को सबसे पहले ट्विटर हैंडल 'पॉलिटिकल कीड़ा' पर डाला गया, जिसमें केजरीवाल को नकारात्मक पात्र उदयभान सिंह राठौड़ के रूप में दिखाया गया है. क्लिप में छत्रपति शिवाजी, तानाजी और राठौड़ के चेहरों पर क्रमश: प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री शाह और मुख्यमंत्री केजरीवाल के चेहरे लगा दिए गए हैं.

विवाद शुरू होने के बाद भाजपा ने वीडियो क्लिप से दूरी बनाते हुए कहा कि इसका उनकी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है. भाजपा कभी मराठा शासक छत्रपति शिवाजी के साथ किसी की तुलना का समर्थन नहीं करेगी. महाराष्ट्र के गृह मंत्री और राकांपा नेता अनिल देशमुख ने वीडियो की निंदा की और कहा कि सरकार यूट्यूब के साथ इस मुद्दे को उठाएगी.

शिवसेना नेता संजय राऊत ने कहा कि उनकी पार्टी छत्रपति शिवाजी का इस तरह का 'अपमान' सहन नहीं करेगी. देशमुख ने कहा, ''मैं राजनीतिक लाभ लेने के लिए इतना नीचे गिरने पर भाजपा की निंदा करता हूं. (राजनीतिक फायदे के लिए) शिवाजी महाराज, तानाजी का इस्तेमाल करना गलत है. हमें वीडियो क्लिप के बारे में शिकायतें मिली हैं और यूट्यूब के साथ इस मुद्दे को उठाया जाएगा. राऊत ने पूछा कि जिन लोगों ने भाजपा नेता उदयनराजे भोसले को छत्रपति शिवाजी का वंशज साबित करने के लिए कही गई मेरी टिप्पणी के खिलाफ विरोध किया, वे अब क्लिप को लेकर चुप क्यों हैं? उनकी पार्टी अपने 'देवता' शिवाजी महाराज का अपमान सहन नहीं करेगी. राऊत ने कहा कि उन्होंने ''उन सभी लोगों'' को क्लिप भेज दी है और वे इस पर उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे हैं.

महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि उनकी पार्टी का क्लिप से कोई लेना-देना नहीं है. हम इसकी निंदा करते हैं. पार्टी दिल्ली चुनाव प्रचार में इस क्लिप का इस्तेमाल नहीं कर रही है. उन्होंने छत्रपति शिवाजी के वंशजों से सबूत मांगने वाले शिवसेना नेता राऊत पर भी परोक्ष निशाना साधा. महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहब थोरात ने कहा कि अगर कोई छत्रपति शिवाजी महाराज के परिधान पहन ले तो वह महज अभिनेता होगा. हमने अक्सर कहा है कि किसी को यह कोशिश नहीं करनी चाहिए. कोई तुलना नहीं हो सकती और किसी को तुलना करनी भी नहीं चाहिए. कुछ लोग कोशिश कर रहे हैं, लेकिन यह गलत है. लोग इसे पसंद नहीं करेंगे.

भाजपा नेता राम कदम ने आरोप लगाया कि शिवसेना नेता राऊत इस मुद्दे को इसलिए उठा रहे हैं ताकि वह कांग्रेस नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण से संबंधित सवालों के जवाबों से बच सकें. चव्हाण ने एक वीडियो में कथित तौर पर कहा है कि उनकी पार्टी शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार में भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए 'मुस्लिम समुदाय' के 'अनुरोध' पर शामिल हुई है. यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. चव्हाण ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने अपने भाषण में मुसलमानों का विशेष रूप से उल्लेख नहीं किया है.

Web Title: Narendra Modi portrayed as Shivaji Maharaj, Amit Shah as Tanaji by morphing a clip Tanhaji
ज़रा हटके से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे