mp Indore village gifts house to martyr's wife on Independence | गांव वालों ने शहीद जवान की पत्नी के लिये किया ऐसा काम हर तरफ हो रही है तारीफ, वीडियो देख हो जायेंगे भावुक 
गांव वालों ने शहीद जवान की पत्नी के लिये किया ऐसा काम हर तरफ हो रही है तारीफ, वीडियो देख हो जायेंगे भावुक 

Highlightsजब मोहन सिंह शहीद हुए थे तो उनका बेटा तीन साल का था। परिवार की हालत देखने के बाद गांव के युवाओं ने घर मुहैया कराने के लिए 'एक चेक एक दस्तखत' अभियान चलाया।

मध्य प्रदेश के इंदौर में बेटमा गांव के लोगों ने एक शहीद के परिवार वालों के लिए जो किया है, उसकी हर तरफ तारीफ हो रही है। 15 अगस्त को बेटमा गांव के लोगों ने शहीद जवान की पत्नी को एक नया घर तोहफे में दिया है। उस तोहफे वाले घर में शहीद की पत्नी गांव वालों की हथेलियों पर चलकर गृह-प्रवेश किया। गांव के युवकों ने ग्यारह लाख रुपये इकट्ठा कर शहीद की पत्नी घर बनवा कर दिया है। 

न्यूज एजेंसी एएनआई ने इसका वीडियो जारी किया है। एजेंसी के मुताबिक, 1992 में मोहन सिंह जवान शहीद हुआ था। जब वो शहीद हुआ थो असम में पोस्टेड था। इनका परिवार के मट्टी के घर में रहता था। घर की छत टूटी हुई थी। परिवार की हालत देखने के बाद गांव के युवाओं ने घर मुहैया कराने के लिए 'एक चेक एक दस्तखत' अभियान चलाया। जिससे ग्यारह लाख रुपये इकट्ठा हुये। 

जब मोहन सिंह शहीद हुए थे तो उनका बेटा तीन साल का था। उस वक्त उनकी पत्नी गर्भवती थीं। शहादत के बाद शहीद की पत्नी ने किसी तरह बच्चों को पालन-पोषण किया। गांव वालों के मुताबिक घर बनाने में 10 लाख रुपये लगे हैं और एक लाख रुपये शहीद जवान की प्रतिमा बनवाने के लिए रखी गई है। 


Web Title: mp Indore village gifts house to martyr's wife on Independence
ज़रा हटके से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे