उच्च शिक्षा के बावजूद स्वीपर का काम करने को थी मजबूर,अब मिली ऐसी पोस्ट, लोग घर आकर दे रहे बधाई

By वैशाली कुमारी | Published: September 21, 2021 03:45 PM2021-09-21T15:45:12+5:302021-09-21T17:28:24+5:30

हैदराबाद की रहने वाली रजनी की दास्तां सुनकर हर कोई हैरान है और इस लड़की की तारीफ कर रहा है। साइंस में पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री होल्डर होने के बावजूद स्वीपर के तौर पर काम करने वाली रजनी अब विज्ञानी बन गई है।

hydrabad Rajni Despite higher education people are congratulating after coming home | उच्च शिक्षा के बावजूद स्वीपर का काम करने को थी मजबूर,अब मिली ऐसी पोस्ट, लोग घर आकर दे रहे बधाई

उच्च शिक्षा के बावजूद स्वीपर का काम करने को थी मजबूर,अब मिली ऐसी पोस्ट, लोग घर आकर दे रहे बधाई

Next
Highlightsकिसान परिवार में जन्मी रजनी वरंगल जिले से ताल्लुक रखती हैंरजनी की इस सफलता के बाद हर तरफ उनकी कामयाबी के चर्चे हैं और लोग उन्हें बधाइयां देने आ रहे हैं

" सब्र का फल मीठा होता है ", हालाकि कई बार फल मिलने में देरी हो जाती है लेकिन ये मिलता उसी को है जो सब्र रखता है और मेहनत से अपने काम में जुटा रहता है। ये कहावत सच होती है रजनी के ऊपर जिन्होंने सब्र किया और लगातार अपनी मेहनत से काम करती गईं, आज अब उनकी मेहनत रंग ला रही है।

हैदराबाद की रहने वाली रजनी की दास्तां सुनकर हर कोई हैरान है और इस लड़की की तारीफ कर रहा है। साइंस में पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री होल्डर होने के बावजूद स्वीपर के तौर पर काम करने वाली रजनी अब विज्ञानी बन गई है। रजनी की इस सफलता ने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया है।

कुछ दिन पहले तक स्वीपर का काम करने वाली रजनी की एजुकेशन देखते हुए तेलंगाना के मगर प्रशासन मंत्री के. टी रामा राव ने सोमवार को उन्हें ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में आउटसोर्सिंग के आधार पर सहायक किट विज्ञानी की नौकरी ऑफर की। बता दें कि रजनी ने ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएट किया है, बावजूद इसके उनके पास बेहतर नौकरी के लिए कोई साधन नहीं थे।

दो बच्चों की मां रजनी पीएचडी होल्डर होने के साथ साथ जीएचएमसी में कॉन्ट्रैक्ट स्वीपर के रूप में काम करती थीं। अर्बन डेवलपमेंट स्पेशल चीफ सेक्रेटरी अरविंद कुमार जो रजनी को मंत्री के पास लेे गए थे, उन्होंने महिला को ऑफर की गई नौकरी के बारे में जानकारी दी। 

किसान परिवार में जन्मी रजनी वरंगल जिले से ताल्लुक रखती हैं। बचपन से ही उनके परिवार में आर्थिक दिक्कतें चल रही थी जिसके बावजूद उनके पिता ने उन्हें एमएससी करवाई। इसके बाद उन्होंने हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी से पीएचडी भी की। पढ़ाई करने के बाद उनकी शादी हो गई और वे हैदराबाद शिफ्ट हो गईं। शादी के बावजूद वे लगातार अपने काम के प्रति समर्पित रहीं और उनकी लगन और शिक्षा का ही कमाल था कि उन्हें ये पदवी दी गई।

रजनी की इस सफलता के बाद हर तरफ उनकी कामयाबी के चर्चे हैं और लोग उन्हें बधाइयां देने आ रहे हैं। अपनी सफलता पर रजनी ने कहा कि लगातार मेहनत करने से कुछ भी असंभव नहीं।

Web Title: hydrabad Rajni Despite higher education people are congratulating after coming home

ज़रा हटके से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे