Wimbledon 2018: Novak Djokovic takes 2-1 lead vs Rafael Nadal in Halted Semi-Final | विंबलडन: 'कर्फ्यू' नियम से रात भर के लिए रुका नडाल-जोकोविच का सेमीफाइनल, नोवाक 2-1 से आगे

लंदन, 14 जुलाई: राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच के बीच खेला जा रहा विंबलडन 2018 का दूसरा सेमीफाइनल रात के 11 बजने के बाद नियमों के तहत रोकना पड़ा। उस समय जोकोविच 2 घंटे 54 मिनट चले मुकाबले में तीन सेटों में 6-4, 3-6, 7-6 (9) से आगे चल रहे थे। 

नडाल और जोकोविच का सेमीफाइनल मैच एंडरसन और जॉन इस्नर के बीच खेले गए 6 घंटे 36 मिनट लंबे सेमीफाइनल मैच की वजह से रात 8 बजे से पहले नहीं शुरू हो सका और आखिर में विंबलडन के नियमों के मुताबिक रात 11 बजे इसे रोकना पड़ा। खेल रोके जाने के समय जोकोविच पहला सेट 6-4 और तीसरा सेट 7-6 (9)  से जीतकर आगे चल रहे थे, नडाल ने दूसरा सेट 6-3 से जीता।  

अब शनिवार को ये सेमीफाइनल स्थानीय समयानुसार दोपहर 1 बजे से फिर से शुरू होगा। इसका मतलब है कि 2 बजे से शुरू होने वाले सेरेना विलियम्स और एंजेलिक कर्बर के बीच होने वाला फाइनल मुकाबला देर से शुरू हो सकता है। 

पढ़ें: विंबलडन 2018: केविन एंडरसन का कमाल, इस्नर को 6 घंटे 36 मिनट चले सेमीफाइनल में हरा रचा इतिहास

आखिर क्यों रोकना पड़ा नडाल-जोकोविच का मैच?

मेर्टन काउंसिल ने ऑल इंग्लैंड क्लब पर रात 11 बजे का कर्फ्यू लगा रखा है। यूके लाइसेंसिग नियम के मुताबिक ज्यादातर सार्वजनिक स्थान स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रात 11 बजे बंद हो जाते हैं।  

पढ़ें: विंबलडन: सेरेना विलियम्स 10वीं बार फाइनल में, 24वें ग्रैंड स्लैम के लिए एंजेलिक कर्बर से होगी भिड़ंत

विंबलडन मैच आमतौर पर अंधेरा होने या रात 9 बजे तक खेला जाता है। हालांकि सेंटर कोर्ट की छत को बंद करने के बाद इसे कुछ घंटे और खेला जा सकता है। यही वजह है कि नडाल और जोकोविच का मैच 11 बजे रात के बाद रोकना पड़ा।

नियमों के मुताबिक अब ये मैच अगले दिन फिर से खेला जा सकता है। अब नडाल और जोकोविच एक बार फिर से शनिवार को सेमीफाइनल मुकाबले में आमने-सामने होंगे।