माइक्रोसॉफ्ट में और बढ़ा सत्या नडेला का कद, बनाया नया चेयरमैन, 2014 में बने थे सीईओ

By दीप्ती कुमारी | Published: June 17, 2021 12:37 PM2021-06-17T12:37:21+5:302021-06-17T12:37:21+5:30

माइक्रोसॉफ्ट ने सीईओ सत्या नडेला को कंपनी के बोर्ड अध्यक्ष के रूप में चुना है । वह अपने पूर्ववर्ती जॉन थॉमप्सन का स्थान लेंगे जबकि थॉमप्सन कपनी में प्रमुख स्वतंत्र निर्देशक बने रहेंगे ।

microsoft names nadella as chairman rewards him for refocusing company | माइक्रोसॉफ्ट में और बढ़ा सत्या नडेला का कद, बनाया नया चेयरमैन, 2014 में बने थे सीईओ

फोटो सोर्स - सोशल मीडिया

Next
Highlightsसत्या नडेला होंगे माइकोसॉफ्ट के नए सीईओ, कंपनी ने अच्छे कामों के लिए किया पुरस्कृतनडेला कंपनी में जॉन थॉमप्सन का स्थान लेंगेनडेला ऐसे तीसरे सीईओ होंगे , जो अध्यक्ष का पद भी संभालेंगे

दिल्ली : दुनिया की  दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने मुख्य कार्यकारी अधिकारी सत्या नडेला को बोर्ड अध्यक्ष के रूप में चुना है। सत्या नडेला इससे पहले सात साल माइक्रोसॉफ्ट में सीईओ के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। साथ ही कंपनी में अपने प्रभाव को मजबूत किया ।

माइक्रोसॉफ्ट ने बुधवार को जारी एक बयान में कहा कि 53 वर्षीय नडेला जॉन थॉमप्सन की जगह लेंगे और वहीं थॉमप्सन प्रमुख स्वतंत्र निदेशक के रूप में काम करेंगे । 

माइक्रोसॉफ्ट ने कहा कि नडेला ने अपने काम और आत्मविश्वास से कंपनी में अपनी खास पहचान बनाई है । उन्हें 2014 में कंपनी के सीईओ के रूप में नियुक्त किया गया था । वही थॉमप्सन का चेयरमैन के रूप में कार्यकाल समाप्त हो गया है । दोनों पिछली गिरावट के बाद से नई भूमिका पर चर्चा कर रहे हैं ।

जबकि नडेला ने सीईओ के रूप में पदभार संभाला, तब माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स ने कंपनी के अध्यक्ष का पद छोड़ दिया और कंपनी में अपनी भूमिका को कम कर दिया गया । उनकी जगह थॉमप्सन को नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया था । इसके पीछे यह सोच थी कि  नडेला को कई दशकों तक प्रौद्योगिकी कार्यकारी थॉमप्सन  की अध्यक्षता में लाभ होगा । 

नडेला के नेतृत्व के दौरान माइक्रोसॉफ्ट का एक तरह से पुनर्जन्म हुआ । मोबाइल फोन और इंटरनेट खोज बाजार में विफलताओं  के साथ-साथ इसके विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के महत्व में भी कमी आई थी। नडेला ने कंपनी के क्लाउड कंप्यूटिंग, मोबाइल एप्लीकेशन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर ध्यान केंद्रित किया जबकि ऑफिस सॉफ्टवेयर फ्रेंचाइजी को क्लाउड और अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम में स्थानांतरित कर दिया, जिसने इसे एक नया जीवन दिया।

कंपनी के शेयर 7 गुना से अधिक बढ़ गए और इसका मूल्य 2 ट्रिलियन डॉलर के करीब पहुंच गया क्योंकि माइक्रोसॉफ्ट को शीर्ष प्रौद्योगिकी कंपनियों के रैंक में बहाल कर दिया गया ।

 नडेला कंपनी के तीसरे ऐसे सीईओ होंगे जो कंपनी के अध्यक्ष का  पद भी  संभालेंगे । इससे पहले  गेट्स और थॉमप्सन ने माइक्रोसॉफ्ट के इतिहास में ऐसा किया है । नडेला से पहले कंपनी  सीईओ स्टीव बाल्मर   ने कभी अध्यक्ष का पद नहीं संभाला क्योंकि गेट्स ने बाल्मर का कार्यकाल पूरा होने से पहले ही अध्यक्ष का पद ले लिया था  । 

कंपनी ने अपने बयान में कहा कि थॉमप्सन अभी भी प्रमुख स्वतंत्र निदेशक के रूप में कार्य करेंगे और नडेला के मुआवजे, उत्तराधिकार योजना, शासन और बोर्ड संचालन की देखरेख में भी सक्रिय रहेंगे ।
 

Web Title: microsoft names nadella as chairman rewards him for refocusing company

टेकमेनिया से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे