Yogini Ekadashi 2022: कल योगिनी एकादशी के दिन करें ये 5 आसान उपाय, सुख-समृद्धि की कामना होगी पूरी

By रुस्तम राणा | Published: June 23, 2022 02:10 PM2022-06-23T14:10:41+5:302022-06-23T14:10:41+5:30

शास्त्रों के अनुसार, योगिनी एकादशी व्रत विधि-विधान के साथ करने से सारे पाप मिट जाते हैं और जीवन में सुख-समृद्धि के साथ-साथ मोक्ष की प्राप्ति होती है।

Yogini Ekadashi 2022 Upay do these five remedies in Yogini Ekadashi 2022 for getting prosperity | Yogini Ekadashi 2022: कल योगिनी एकादशी के दिन करें ये 5 आसान उपाय, सुख-समृद्धि की कामना होगी पूरी

Yogini Ekadashi 2022: कल योगिनी एकादशी के दिन करें ये 5 आसान उपाय, सुख-समृद्धि की कामना होगी पूरी

Next

Yogini Ekadashi 2022: हिंदू धर्म में एकादशी तिथि का बड़ा महत्व माना जाता है। प्रत्येक माह दो बार एकादशी व्रत किया जाता है। यह व्रत भगवान विष्णु के साथ-साथ मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए रखा जाता है। ऐसे ही यह आषाढ़ मास चल रहा है और इस माह कृष्ण पक्ष की एकादशी को योगिनी एकादशी कहते हैं। इस बार 24 जून, शुक्रवार को योगिनी एकादशी व्रत रखा जाएगा। शास्त्रों के अनुसार, योगिनी एकादशी व्रत विधि-विधान के साथ करने से सारे पाप मिट जाते हैं और जीवन में सुख-समृद्धि के साथ-साथ मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से व्रती को अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं। 

1. योगिनी एकादशी के दिन आप भगवान विष्णु को खीर का भोग लगाएं। खीर में तुलसी का पत्ता डाल दें। इससे श्रीहरि विष्णु आप पर प्रसन्न होंगे और मनोकामनाएं पूरी होंगीष ध्यान रखें कि एकादशी के दिन तुलसी का पत्ता न तोड़ें। एक दिन पहले तोड़ सकते हैं।

2. योगिनी एकादशी के दिन भगवान विष्णु का पंचामृत से अभिषेक करना चाहिए। कहते हैं पंचामृत जगत के पालनहार को बेहद प्रिय है। प्रसाद के रूप में भी पंचामृत को ग्रहण करना चाहिए। इससे आप पर भगवान विष्णु की कृपा होगी। धन-धान्य में वृद्धि के साथ मनोकामनाएं भी पूर्ण होंगी।

3. योगिनी एकादशी के दिन दक्षिणावर्ती शंख की पूजा करने से जातकों को अनेक प्रकार के लाभ मिलते हैं। साथ ही पूजा के पश्चात पीले चावल, चने की दाल, केला, गुड़, पीले वस्त्र आदि का दान करना भी अत्यंत लाभकारी होता है। इससे आपके जीवन में सुख-समृद्धि की कामना पूर्ण होती है।

4. योगिनी एकादशी के दिन पीपल के वृक्ष को जल अर्पित करना चाहिए। इसके बाद वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाना चाहिए। धार्मिक मान्यता है कि पीपल के पेड़ में भगवान विष्णु का वास होता है। ऐसा करने से आप पर भगवान विष्णु की कृपा दृष्टि बनी रहेगी।

5. योगिनी एकादशी के दिन विष्णु जी के साथ-साथ मां तुलसी की पूजा अवश्य करें। तुलसी मां लक्ष्मी स्वरूपा हैं। शाम के समय तुलसी की वेदिका पर घी का दीपक जलाएं और कम से कम 5 या 11 बार परिक्रमा करें। इस उपाय से आपके जीवन में आ रही आर्थिक समस्याएं नष्ट हो जाएंगी।

Web Title: Yogini Ekadashi 2022 Upay do these five remedies in Yogini Ekadashi 2022 for getting prosperity

पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे