साल का आखिरी 'सूर्य ग्रहण' कितने घंटे का होगा? शनि अमावस्या भी इस बार, जानिए 10 जरूरी बातें

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: December 2, 2021 02:59 PM2021-12-02T14:59:28+5:302021-12-02T14:59:28+5:30

Surya Grahan 2021: साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को लगने जा रहा है। ये ग्रहण चार घंटे से ऊपर का होगा। भारत में ये दिखाई नहीं देगा।

Solar Eclipse 2021 India time, surya grahan sutak time, surya grahan tithi, shani amavasya details | साल का आखिरी 'सूर्य ग्रहण' कितने घंटे का होगा? शनि अमावस्या भी इस बार, जानिए 10 जरूरी बातें

4 दिसंबर को लगेगा साल 2021 का आखिरी सूर्यग्रहण (फाइल फोटो)

Next
Highlights4 दिसंबर को लगेगा सूर्य ग्रहण, इस दिन शनि अमावस्या भी होगी।भारत में ये सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा, इसलिए इसका सूतक भी नहीं लगेगा।इस ग्रहण का समय 4 घंटे आठ मिनट का होगा, सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि में लग रहा है।

Solar Eclipse 2021 India Time, Date: इस साल का आखिरी सूर्यग्रहण 4 दिसंबर को लगने जा रहा है। शनिवार होने की वजह से ये शनि अमावस्या का भी दिन होगा। ऐसे में यह एक अद्भुत संयोग होने जा रहा है। साल का यह आखिरी सूर्य ग्रहण होगा। 

इसके बाद अगले साल 30 अप्रैल को अगला सूर्य ग्रहण लगेगा। इस ग्रहण का समय 4 घंटे आठ मिनट का होगा और भारत में दिखाई नहीं देगा। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस सूर्य ग्रहण का क्या महत्व है, सूतक लगेगा या नहीं, भारत में समय क्या होगा? आईए 10 प्वाइंट में जान लेते इन तमाम सवालों के जवाब...

Surya Grahan 2021: सूर्य ग्रहण के बारे में 10 अहम बातें

1. सूर्य ग्रहण का कुल समय 4 घंटे 8 मिनट का होगा। आंशिक सू्र्य ग्रहण की शुरुआत सुबह 5.29 बजे होगी। पूर्ण सूर्य ग्रहण 7 बजे लगना शुरू होगा और ये 8.6 पर खत्म होगा। आशिंक ग्रहण 9.37 बजे खत्म होगा।

2. भारत के समय के अनुसार सूर्य ग्रहण की शुरुआत सुबह 10.59 बजे होगी और 03.07 पर यह खत्म हो जाएगा। वैसे भारत में ये सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा।

3. भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देने की वजह से इसका असर भी यहां नहीं होगा। कोई सूतक काल प्रभावी नहीं होगा। ऐसे में मंदिर खुले होंगे। पूजा-पाठ भी किए जा सकते हैं।

4. मान्यताओं के अनुसार अगर सूतक लगता तो इसका प्रभाव 12 घंटे पहले शुरू हो जाता है। वहीं चंद्र ग्रहण के दौरान सूतक काल 9 घंटे पहले शुरू होता है।

5. पंचांग के मुताबिक अमावस्या तिथि का आरंभ 3 दिसंबर को  दोपहर 04:55 से हो जाएगा और 4 दिसंबर को दोपहर 1:12 मिनट तक ये रहेगा। ऐसे में शनिवार को शनि अमावस्य माना जाएगा।

6. शनिवार का दिन मार्गशीर्ष (अगहन) मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि होगी।

7. ज्योतिषाचार्यों के अनुसार ग्रहण के समय वृश्चिक राशि में सूर्य, केतु, चंद्रमा और बुध ग्रह साथ में होंगे और इस पर राहु की दृष्टि बनी रहेगी।

8. साल का ये आखिरी सूर्य ग्रहण अंटार्कटिका, दक्षिण अफ़्रीका, अटलांटिक के दक्षिणी भाग, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका में देखा जा सकेगा।

9. सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि में लग रहा है। ऐसे में वृश्विक राशि वालों को कुछ विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होगी।

10. अगले साल यानी 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल को लगेगा। यह ग्रहण भी भारत में नजर नहीं आएगा। इसे दक्षिणी-पश्चिमी अमेरिका, प्रशांत महासागर क्षेत्र, अटलांटिक और अंटार्कटिका में देखा जा सकेगा।

Web Title: Solar Eclipse 2021 India time, surya grahan sutak time, surya grahan tithi, shani amavasya details

पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे