importance of venus planet in life jyotish shukra grah thik karne ka upaay kya hai | पराई स्त्री से यौन संबंध बनाने सहित इन वजहों से होता है शुक्र खराब, कहीं आपके साथ तो ऐसा नहीं! जानिए लक्षण
शुक्र ग्रह खराब होने से उठाने पड़ सकते हैं कई नुकसान

Highlightsशुक्र ग्रह खराब होने से जातक को त्वचा और काम संबंधित हो सकते हैं रोगपत्नी-पति के बीच बार-बार अनावश्यक कलह होना भी शुक्र के खराब होने की निशानी हैशुक्र ग्रह का दोष ठीक करने के लिए साफ-सफाई का रखा जाना चाहिए विशेष ध्यान

ग्रहों की चाल का प्रभाव इंसानों की जिंदगी पर भी पड़ता है। ऐसी मान्यता है कि ब्रह्मांड के 9 ग्रह हमारे जीवन को बनाने और बिगाड़ने का काम करते हैं। इन ग्रहों की स्थिति अच्छी है तो इसका प्रभाव सकारात्मक होता है और हमारा जीवन भी शांति और खुशियों से भरा होता है। वहीं, ग्रहों की चाल का प्रभाव नकारात्मक हो तो परेशानी और कष्ट बढ़ जाते हैं। शुक्र ग्रह इनमें से ही एक ऐसे ग्रह हैं जिनके खराब होने से जीवन कष्टदायी बन जाता है। कुछ ऐसे लक्षण भी हैं जो बताते हैं कि आपका शुक्र ग्रह खराब है या नहीं। अगर ऐसा वाकई है तो कुछ उपाय कर आप इस स्थिति को ठीक भी कर सकते हैं।

शुक्र ग्रह खराब होने के लक्षण

हमारी जिंदगी में काफी कुछ ऐसा होता है जिस पर हम अगर गौर करें तो यह मालूम चल जाएगा कि हमारा शुक्र ग्रह खराब है या परेशानी की वजह कुछ और है। आपको भी कुछ ऐसे संकेत मिल रहे हैं तो आपको तत्काल शुक्र ग्रह से जुड़े उपाय कर लेने चाहिए। शुक्र ग्रह के खराब होने का सबसे बड़ा संकेत जातक का अंगूठा है। अगर कुंडली में शुक्र ग्रह की स्थिति अच्छी नहीं हो तो जातक का अंगूठा बिना किसी वजह के खराब होने लगता है और उसका स्वरूप बिगड़ने लगता है। साथ ही व्यक्ति को त्वचा रोग के साथ-साथ स्वप्न दोष जैसे विकार भी घेर लेते हैं। ऐसे में शुक्र ग्रह की शांति के लिए जातक को उपाय करने चाहिए। पत्नी-पति के बीच बार-बार अनावश्यक कलह होना भी शुक्र के खराब होने की निशानी है। 

कैसे होता है शुक्र खराब

शुक्र ग्रह खराब होने के भी कई कारण हो सकते हैं। ऐसे में इनसे बचना चाहिए। मसलन, किसी कारण से दांत खराब होने से शुक्र अपना अच्छा प्रभाव छोड़ने लगते हैं। साथ ही घर की दक्षिण-पूर्व दिशा के दूषित होने से भी शुक्र की नाराजगी झेलनी पड़ती है। पराई स्त्री से यौन संबंध बनाने से शुक्र बुरे प्रभाव शुरू कर देते हैं। घर की साफ-सफाई पर ध्यान नहीं देने या फिर खुद शारीरिक रूप से गंदे बने रहना, गंदे और फटे कपड़े पहनने आदि से भी जातक का शुक्र खराब होता है। 

घर में काले या फिर कत्थई रंगों की अधिकता भी शुक्र के खराब होने की वजह बन सकता है। किसी व्यक्ति की कुंडली में एक ही भाव में यदि शुक्र के साथ राहु आकर बैठ जाए, तो भी शुक्र ग्रह का अच्छा प्रभाव खत्म होने लगता है। ऐसे में वह व्यक्ति स्त्री तथा दौलत से वंचित होने लगता है।

शुक्र खराब होने से हो सकती है ये सभी बीमारी

मानव के शरीर में गाल, ठुड्डी और नसों का संबंध शुक्र से माना जाता है। ऐसे में शुक्र खराब होने से यहां शरीर के इन हिस्सों को लेकर परेशानी उठानी पड़ सकती है। शुक्र के खराब होने से वीर्य की कमी भी हो जाती है। इससे यौन रोग या जातक में कामेच्छा कम होने लगती है। शुक्र ग्रह खराब होने से त्वचा संबंधी रोग भी होने का खतरा होता है। इसके अलावा अंतड़ियों और गुर्दे का रोग हो सकता है। साथ ही पांव में तकलीफ बनी रहती है।

शुक्र दोष से मुक्ति के लिए उपाय

शुक्र के दोष से पीड़ित जातक को माता लक्ष्मी की उपासना और शुक्रवार का व्रत करना चाहिए। साथ ही घर और अपने कार्य स्थान पर साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें। खुद भी साफ रहें और हमेशा साफ कपड़े पहनें। शुक्रवार को गाय को भोजन कराये और हो सके तो घी, दही का दान करें। आप शुक्र के दोष से मुक्ति के लिए किसी अच्छे ज्योतिषशास्त्री से भी परामर्श लेकर शुक्र का रत्न पहन सकते हैं। शुक्र दोष से मुक्ति के लिए हीरा, स्फटिक और अमेरिकन डायमंड को मध्यमा अंगुली में पहनें।


Web Title: importance of venus planet in life jyotish shukra grah thik karne ka upaay kya hai
पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे