bhai dooj 2018: shubh muhurat, timing, puja vidhi, significance importance in Hindi | भाई दूज 2018: जानिए कब है भाई दूज और क्या है टीका काढ़ने का शुभ मुहूर्त
भाई दूज 2018: जानिए कब है भाई दूज और क्या है टीका काढ़ने का शुभ मुहूर्त

भाई दूज का त्योहार दिवाली के ठीक दो दिन बाद मनाया जाता है। भाई और बहन के इस सबसे पावन त्योहार को इस बार 9 नवंबर को मनाया जाएगा। इस त्योहार में बहनें अपने भाई को टीका काढ़ती हैं और उनकी सफलता के लिए प्रार्थना करती हैं। भाई दूज पर टीका काढने का भी एक शुभ मुहूर्त होता है। आप भी जानिए क्या है वो शुभ मुहूर्त। 

ये है भाई दूज का शुभ मुहूर्त

शुभ मुहूर्त शुरू- दोपहर 1:10 मिनट
शुभ मुहूर्त समाप्त- दोपहर 3:27 मिनट
शुभ मुहूर्त की अवधि- 2 घंटे 17 मिनट

ऐसे करें पूजा

* सबसे पहले बहनें एक लकड़ी की चौक को शुद्ध करें यानी उसे पानी या गंगाजल से अच्छे से साफ करें। 
* इसके बाद अपने भाई को उस चौक पर बैठाएं। 
* इसके बाद थाली में रोली, चंदन और अक्षत रखें। 


* रोली को गंगाजल से घोल लें और अपनी अनामिका उंगली से इसे अपने भाई के माथे पर लगाएं। 
* इसके बाद चावल के अक्षत को भी माथे पर लगाएं। 
* अब भाई को उसकी मन पसंद मिठाई खिलाकर उसका मुंह मीठा करें। 

मान्यता ये भी है कि जो भाई इस दिन अपने बहन के घर भोजन करता है वो साल भर हर परेशानी से दूर रहता है। किसी तरह का भय उसे नहीं सताता और उसे शत्रुओं का भी डर नहीं रहता। भाई दूज के दिन को यमुना और उनके भाई यमराज से जोड़ा जाता है। कहा जाता है कि एक बार यमुना ने अपने भाई को अपने यहां खाने पर बुलाया था। 

English summary :
The festival of Bhai Dooj is celebrated exactly two days after Diwali. This holiest festival of brother and sister will be celebrated on 9th November this time.


Web Title: bhai dooj 2018: shubh muhurat, timing, puja vidhi, significance importance in Hindi
पूजा पाठ से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे