अनिल अंबानी की बहू कृशा शाह का उनकी बहन ने किया कन्यादान, जानें क्या है इसका महत्व

By मनाली रस्तोगी | Published: February 22, 2022 05:45 PM2022-02-22T17:45:51+5:302022-02-22T17:48:26+5:30

अनिल अंबानी के बड़े बेटे जय अनमोल अंबानी कृशा शाह के साथ शादी के पवित्र बंधन में बंध गए हैं। इस बीच कृशा की बड़ी बहन नृती शाह ने सोशल मीडिया पर एक इमोशनल पोस्ट शेयर किया है। इस पोस्ट के जरिए नृती ने बताया कि अपनी छोटी बहन का कन्यादान उन्होंने किया है। ऐसे में जानिए कि कन्यादान का क्या महत्व होता है।

Anmol Ambani Wife Krisha Shah Sister Performs Her Kanyadaan | अनिल अंबानी की बहू कृशा शाह का उनकी बहन ने किया कन्यादान, जानें क्या है इसका महत्व

अनिल अंबानी की बहू कृशा शाह का उनकी बहन ने किया कन्यादान, जानें क्या है इसका महत्व

Next
Highlightsअनिल अंबानी के बड़े बेटे जय अनमोल अंबानी कृशा शाह के साथ शादी के पवित्र बंधन में बंध गए हैं। कृशा की बड़ी बहन नृती शाह ने उनका कन्यादान किया।कन्यादान को महादान की श्रेणी में रखा गया है।

अनिल अंबानी के बड़े बेटे जय अनमोल अंबानी कृशा शाह के साथ शादी के पवित्र बंधन में बंध गए हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर इस नवविवाहित जोड़े की तस्वीरें काफी तेजी से वायरल हो रही हैं। बता दें कि कृशा शाह के ब्राइडल लुक की तारीफ हर जगह हो रही है। शाह को दुल्हन के रूप में देखकर फैंस भी काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं। इस बीच कृशा की बड़ी बहन नृती शाह ने सोशल मीडिया पर एक इमोशनल पोस्ट शेयर किया है। इस पोस्ट के जरिए नृती ने बताया कि अपनी छोटी बहन का कन्यादान उन्होंने किया है। 

अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कृशा की तस्वीर पोस्ट करते हुए नृती ने कैप्शन में लिखा, "जिन लोगों को कन्या का दान करने का सौभाग्य प्राप्त होता है उनके लिए इससे बढ़कर और कुछ नहीं होता है, माना जाता है कि यह दान माता-पिता के लिए स्वर्ग के रास्ते खोलता है। इसलिए हिंदू धर्म में कन्या दान को सबसे बड़ा दान माना गया। मेरे पिता ने करण और मुझे अब तक का सबसे बड़ा व सबसे सार्थक उपहार दिया। अपनी छोटी बहन को अनमोल को काफी इमोश्नल भी था। विडंबना देखिए यह एकमात्र मौका था जो कभी हमें मिला (क्योंकि हमें दो बेटे हैं)।"

जानें कन्यादान का महत्व

मान्यता के अनुसार, कन्यादान को महादान की श्रेणी में रखा गया है। इसका मतलब ये हुआ कि कन्यादान से बड़ा धान कोई नहीं हो सकता। ऐसा माना जाता है कि जब कन्या के माता-पिता शास्त्रों में बताए गए विधि-विधान से कन्यादान करते हैं तो इससे उनके परिवार को भी सौभाग्य की प्राप्ति होती है। माना जाता है कि जब किसी कन्या का कन्यादान हो जाता है तो उसके लिए उसका मायका पराया हो जाता है। यानि उसके पति का घर उसका अपना घर हो जाया है। कहा जाता है कि कन्यादान के बाद कन्या के पिता का उसपर कोई अधिकार नहीं होता।

Web Title: Anmol Ambani Wife Krisha Shah Sister Performs Her Kanyadaan

रिश्ते नाते से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे