Highlightsदो अज्ञात अपराधियों ने पिस्टल का भय दिखा करीब तीन लाख रुपये के साथ बाइक लूट की घटना को अंजाम दिया है.तेजस्वी यादव ने आज प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार पर जबर्दस्त हमला बोला.बिहार में कानून-व्यवस्था और शराबबंदी के साथ-साथ विधानसभा सत्र को लेकर भी निशाना साधा.

पटनाः एक बार फिर बेखौफ अपराधियों ने बिहार के सीतामढ़ी जिले में बड़ी घटना को अंजाम दिया है.

घटना रुन्नीसैदपुर थाना क्षेत्र के गढ़ गांव की है, जहां बेखौफ अपराधियों ने सेंट्रल बैंक के सीएसपी संचालक रामेश्वर महतो को दो अज्ञात अपराधियों ने पिस्टल का भय दिखा करीब तीन लाख रुपये के साथ बाइक लूट की घटना को अंजाम दिया है.

मोटरसाइकिल भी छीन ली और मुजफ्फरपुर की ओर भाग निकले

प्राप्त जानकारी के अनुसार अपराधियों ने घटना को तब अंजाम दिया, जब संचालक गढ़ चौक स्थित सेंट्रल बैंक की शाखा से रुपया निकाल अपनी मोटरसाइकिल से 200 मीटर की दूरी स्थित अपनी सीएसपी सेंटर जा रहा था. इसी दौरान बीच मे ही दो की संख्या में हथियारबंद अपराधियो ने रामेश्वर महतो से पैसे का भरा बैग छिनने का प्रयास किया. लेकिन विफल होने पर उसमे से एक अपराधी ने फिस्टल का भय दिखा संचालक से पैसे से भरा बैग समेत उसकी मोटरसाइकिल भी छीन ली और मुजफ्फरपुर की ओर भाग निकले.

अपराधियों के पीछे स्थानीय 10 से 15 लोग बाइक ले उसे पकड़ने के लिए उसके पीछे गए. लेकिन उनका अबतक पता नहीं चल पाया है. जिस जगह पर वारदात को अंजाम दिया गया, वहां दिन भर व्यस्तता बनी रहती है. इसके बाद भी वहां दिनदहाडे़ लुटेरे लूट की घटना को अंजाम देने में कामयाब हो गये और पुलिस को इसकी भनक भी नहीं लगी. उन्हें पकड़ने की जगह वह पैसे वसूली के लिए गाड़ियों की जांच में लगे दिखे. इसतरह बिहार में लगातार घट रही घटनाओं के बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आज प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार पर जबर्दस्त हमला बोला.

बिहार में सेलेक्टेड और नोमिनेटड मुख्यमंत्री आए हैं

उन्होंने नीतीश कुमार पर बिहार में कानून-व्यवस्था और शराबबंदी के साथ-साथ विधानसभा सत्र को लेकर भी निशाना साधा. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इस बार बिहार में सेलेक्टेड और नोमिनेटड मुख्यमंत्री आए हैं. इनसे गृह विभाग नहीं संभल रहा है. आश्चर्य की बात है कि भाजपा खुद सरकार का हिस्सा होते हुए भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सवाल के घेरे में खड़ा कर रही है.

तेजस्वी यहीं नहीं रूके और कहा कि नीतीश कुमार चोर के दरवाजे से सत्ता में आए हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समीक्षा बैठक करते हैं. लेकिन यह उनकी समीक्षा बैठक नहीं बल्कि भिक्षा बैठक होती है. इस समीक्षा बैठक में पैसे पर ट्रांसफर- पोस्टिंग की बाते होती है. आरसीपी टैक्स की बात होती है. इसको लेकर ही बैठक होती है. इसका क्या नतीजा निकलता है? 

पुलिसकर्मी शराब की बोतल के पीछे घूमता रहता

तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पुलिसकर्मी शराब की बोतल के पीछे घूमता रहता है. उन्होंने कहा कि सभी जगह अपराध हो रहा है. नीतीश सरकार से बिहार संभलने वाला नहीं है. वहीं भाजपा पर भी हमला करते हुए कहा कि भाजपा के लोग सवाल पूछ कर बचना चाह रहे हैं.

सरकार गुंडा ही चला रहे हैं. दो-दो उपमुख्यमंत्री हैं, लेकिन लगातार घटनाएं बढ़ रही है. कहां हैं पीएम साहेब? तेजस्वी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार थक गए हैं. उनसे बिहार संभल नहीं रहा है. जब तक सैकडों मर्डर नहीं होता है. इनकी डबल इंजन की सरकार को चैन नहीं आता है. रुपेश सिंह की हत्यारों को पुलिस गिरफ्तार करें. तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार ने चोर दरवाजे से सरकार बनाई है. दो उप मुख्यमंत्री किस पार्टी के हैं? पीएम मोदी बोलते हैं कि बेटा दिल्ली में बैठा है.

आखिर ये दोनों भाजपा के उपमुख्यमंत्री क्या कर रहे हैं?

क्या रुपेश के घर के लोग छठ करेंगे? उन्होंने कहा कि आखिर ये दोनों भाजपा के उपमुख्यमंत्री क्या कर रहे हैं? इनके मंत्री क्या कर रहे हैं? मैं कह रहा हूं कि बिहार गलत हाथों में चला गया है. जिसका खामियाजा बिहार की जनता भुगत रही है. तेजस्वी यादव ने कहा कि मुझे जंगलराज का युवराज कहा जाता है. लेकिन अब जंगलराजा का महाराज कौन है? इसका तो जवाब देना चाहिए. उसको सामने आना चाहिए. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पीड़ितों से नहीं मिलते हैं. लेकिन सवाल विपक्ष से पूछा जाता है तो थके हुए मुख्यमंत्री कहते हैं कि जबर्दस्ती मुझे मुख्यमंत्री बनाया गया है.

वहीं तेजस्वी यादव ने रुपेश हत्याकांड की चर्चा करते हुए कहा कि, घर में घुस कर अपराधी गोली मार रहे हैं. मुख्यमंत्री आवास से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर इस घटना को अंजाम दिया जाता है. जितना ध्यान से आप न्यूज की एडिटिंग करते हैं ताकि मामला सामने न आए. उतना ही ध्यान अपराध को रोकने में लगाते तो अच्छा होता.

गृह विभाग नहीं संभल रहा तो किसी और को दें

गृह विभाग नहीं संभल रहा तो किसी और को दें. इसके साथ ही विधानसभा सत्र को लेकर कहा कि मुख्यमंत्री विधानसभा सत्र बुलाना ही नहीं चाहते. तेजस्वी यादव ने एक के बाद सवाल करते हुए पुछा कि मुख्यमंत्री जी सामने क्यों नहीं आते? वे चुप क्यों हैं?

केवल भ्रष्टाचार की खबरों को छिपाने में लगे रहते हैं. बिहार गलत हाथों में चला गया है. सरकार में रहने वाले लोग भ्रष्टाचारियों को संरक्षण दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने मुझे चुनाव में क्या-क्या नाम नहीं दिया? मुझे जंगलराज का युवराज तक कहा तो प्रधानमंत्री जी बताएं कि महाजगलराज पर आप क्या करेंगे? 

तेजस्वी यादव ने कहा कि सरकार अब अपराधी चला रहे हैं

तेजस्वी यादव ने कहा कि सरकार अब अपराधी चला रहे हैं. सरकार में बैठे लोग अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं. लगातार घटनाएं बढ रही हैं. अपराधी लोगों को घर में घुस-घुसकर मार रहे हैं. उन्होंने कहा कि रुपेश सिंह जैसा हंसमुख व्यक्ति को पटना के पॉश इलाके में मार दिया जाता है, इससे पुलिस कार्यशैली का पता चलता है. लगातार कई घटनाएं सामने आ रही हैं.

स्थिति ऐसी हो गई है कि लोग घर से निकलने से डरते हैं. तेजस्वी यादव ने कहा कि रुपेश सिंह की हत्या की जो बातें सामने आ रही है, उसमें बताया जा रहा है कि 15 राउंड गोली चलाई गई थी. जिसमें 6 गोली उनको लगी. हमारा भी एयरपोर्ट आना जाना लगा रहता है. काफी मिलनसार व्यक्ति थे. आप ईमानदारी से अपराध को नियंत्रण करने की दिशा में काम करते तो शायद आज यह हालत बिहार की नहीं हुई होती.

Web Title: tejashwi yadav slams on nitish kumar government rupesh singh murder case patna bihar bjp

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे