Tejashwi Yadav seeks to wash away RJD's sins with an apology; NDA smirks | 15 साल के कार्यकाल में हुईं गलतियों को लेकर तेजस्वी के माफी मांगने पर एनडीए ने साधा निशाना, जानें क्या है पूरा मामला
माफी मांगने को लेकर एनडीए ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधा है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsराजग ने इस चुनाव में राजद के 15 साल के कार्यकाल बनाम नीतीश कुमार के 15 साल के कार्यकाल को मुख्य मुद्दा बनाया है।तेजस्वी के माफी मांगने पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कटाक्ष करते हुए कई कटु ट्वीट किए।

पटना। बिहार में राजद के 15 साल के कार्यकाल में हुईं ‘‘गलतियों’’ को लेकर पार्टी नेता तेजस्वी यादव द्वारा लोगों से माफी मांगे को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ जद (यू)-भाजपा गठबंधन ने शुक्रवार को उन पर निशाना साधा। राज्य में कुछ ही महीनों में होने वाले विधानसभा चुनाव में राजद की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी ने बृहस्पतिवार को कहा था, ‘‘जब पार्टी सत्ता में थी, तब मैं छोटा था। इसके बावजूद, यदि कोई गलती हुई है, तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूं।’’

राजग ने इस चुनाव में राजद के 15 साल के कार्यकाल बनाम नीतीश कुमार के 15 साल के कार्यकाल को मुख्य मुद्दा बनाया है। कुमार के 15 साल के कार्यकाल की अवधि में वह समय शामिल नहीं है, जब वह चार साल के लिए भाजपा नीत गठबंधन से अलग हो गए थे। तेजस्वी के माफी मांगने पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कटाक्ष करते हुए कई कटु ट्वीट किए।

उन्होंने अपने ट्वीट में लालू प्रसाद के कार्यकाल में बिहार में गरीबी और हिंसा के कारण राज्य की हुई जगहंसाई का संदर्भ दिया है। तेजस्वी यादव का नाम लिए बगैर सुशील मोदी ने लिखा है, ‘‘अगर ऐसे परिवार का कोई सदस्य माफी मांगे जिसने अपने शासन के घिनौने रूप को महिमामंडित करते हुए लालूवाद कहा था, वह सच्ची (माफी) नहीं लगती।’’

सुशील मोदी उन कुछ नेताओं में से हैं जिन्होंने पटना उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर कर करोड़ों रुपये के चारा घोटाले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी। पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्य विधानसभा में इस समय विपक्ष के नेता तेजस्वी ने इस चुनावी मुद्दे के जवाब में उक्त टिप्पणी की थी। पूर्व मुख्यमंत्रियों लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के बेटे ने नीतीश कुमार के कार्यकाल में उपमुख्यमंत्री के तौर पर अपने करीब दो साल के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘मेरी निगरानी में कोई गलत कार्य नहीं हुआ।’’

नीतीश कुमार राजद-कांग्रेस गठबंधन से अलग हो गए थे और वह राजग में लौट आए थे। तेजस्वी यादव ने बृहस्पतिवार को दिए भाषण में रोजगार के अभाव में राज्य से श्रमशक्ति के बड़े स्तर पर पलायन के लिए नीतीश कुमार पर निशाना साधा। जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कुमार के खिलाफ यादव के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि बिहार के लोग ‘‘चुनावी मौसम में छवि सुधारने की कोशिशें’’ सफल नहीं होने देंगे।

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा था। (फाइल फोटो)
तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा था। (फाइल फोटो)

प्रसाद ने कहा, ‘‘लोग उस अंधकारमय समय की यादों से अब भी सिहर जाते हैं, जब असामाजिक तत्वों द्वारा जाति के आधार पर लड़ाइयां और फिरौती के लिए अपहरण करना आम बात थी, जिनके सिर पर सत्ता में बैठे लोगों का हाथ था। आम श्रमिकों को ही नहीं, बल्कि चिकित्सकों, इंजीनियरों और अन्य पेशेवरों को अपनी सुरक्षा के लिए भागना पड़ा।’’

भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा, ‘‘जिस प्रकार देश के लोग चीन और पाकिस्तान को भारत विरोधी रुख के लिए और कांग्रेस को सिखों के नरसंहार तथा जम्मू-कश्मीर को बर्बाद करने के लिए कभी माफ नहीं करेंगे, उसी प्रकार राजद को बिहार के लोग कभी माफ नहीं करेंगे।’’ आनंद ने कहा कि तेजस्वी यादव ने ‘‘अपनी पार्टी के 15 साल के कुशासन के समाप्त होने के 15 साल बाद’’ माफी मांगी है। उन्होंने पूछा कि चारा घोटाला मामले में रांची में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने कभी कोई माफी क्यों नहीं मांगी।

Web Title: Tejashwi Yadav seeks to wash away RJD's sins with an apology; NDA smirks
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे