Highlights भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल नये मंत्रियों के नामों की सूची मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंप देंगे.तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी के बाद शाहनवाज हुसैन को आगे लाने से साफ है भाजपा इस दिशा में सोच रही है.भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री आवास से निकलते हुए कहा था कि मीडिया को जल्द ही कैबिनेट विस्तार के बारे में सूचना दे दी जाएगी.

पटनाः बिहार में बहुप्रतिक्षित मंत्रिमंडल का विस्तार का समय तय होने के बावजूद टल गया. ऐसे में मंत्री बनने की आस लगाये भाजपा और जदयू के लोगों के उम्मीदों पर पानी फिर गया.

रविवार की देर शाम भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच हुई मुलाकात में कैबिनेट विस्तार पर सहमति बन गई थी. सहमति बनने के बाद ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री आवास से निकलते हुए कहा था कि मीडिया को जल्द ही कैबिनेट विस्तार के बारे में सूचना दे दी जाएगी.

नए मंत्रियों के नाम की सूची मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंप देगी

सोमवार को बिहार के सियासी गलियारे में यह खबर आने लगी कि मंगलवार को कैबिनेट का विस्तार होने जा रहा है. इसके लिए राजभवन सूत्रों ने भी पुष्टि कर दी थी. लेकिन, देर रात मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ कर दिया कि कैबिनेट विस्तार का वक्त अभी तय नहीं हुआ है. बुधवार को अपने कोटे के नए मंत्रियों के नाम की सूची मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंप देगी.

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल और संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ दिल्ली में कैंप कर रहे हैं. दोनों नेताओं की बिहार भाजपा के प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय के साथ एक दौर की वार्ता हो चुकी है.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल को दिल्ली रवाना होना पड़ा

भाजपा के अंदरूनी सूत्रों की माने तो भाजपा कोटे के मंत्रियों के नामों में पेंच फंसने के कारण कैबिनेट विस्तार मंगलवार को नहीं हो सका. कुछ नामों को लेकर पेंच ऐसा फंसा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल को दिल्ली रवाना होना पड़ा.

दिल्ली में भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व से डॉक्टर संजय जायसवाल मुलाकात करेंगे और इसी के बाद अंतिम तौर पर भाजपा मंत्रियों की लिस्ट फाइनल की जाएगी. संजय जायसवाल को जैसे ही केंद्रीय नेतृत्व की तरफ से हरी झंडी मिलेगी नीतीश कैबिनेट के विस्तार का वक्त फाइनल हो जाएगा. 

सरकार की तरफ से आधिकारिक तौर पर राजभवन को सूचना दी जाएगी

इसके बाद सरकार की तरफ से आधिकारिक तौर पर राजभवन को सूचना दी जाएगी और उसके बाद मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में अधिकारिक तौर पर एलान होगा. आज अंतिम निर्णय के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ बिहार भाजपा के नेताओं की बैठक होनी है. प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल और संगठन महामंत्री नागेंद्र नाथ, बिहार भाजपा के प्रभारी व राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव और केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय अंतिम रूप से नाम तय करेंगे.

ऐसे में कैबिनेट विस्तार को लेकर बिहार में दो दिन सियासी गहमागहमी रहेगी. नीतीश कैबिनेट के विस्तार को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं. सूत्रों की मानें तो भाजपा में सामाजिक समीकरण और क्षेत्रीय समीकरण का ध्यान रखते हुए कुछ नामों पर आपत्ति हुई.

संजय जयसवाल आज ही दिल्ली से पटना वापस आ सकते हैं

जिसके बाद मंत्रिमंडल का विस्तार टालना पड़ा है. सूत्र बता रहे हैं कि संजय जयसवाल आज ही दिल्ली से पटना वापस आ सकते हैं. केंद्रीय नेतृत्व जैसे ही सूची को अंतिम तौर पर मंजूरी देगा वैसे ही कैबिनेट विस्तार के लिए कवायद शुरू हो जाएगी. इस बीच सरकार में पांच-पांच महकमों की जिम्मेदारी संभाल रहे मंत्रियों की धुकधुकी बढ़ गई है.

दोनों उप मुख्यमंत्री भी इस बात को लेकर निश्चित नहीं हैं कि उनके पास कौन-कौन विभाग रहेगा. भाजपा ही नहीं, जदयू के मंत्रियों की भी कमोबेश यही स्थिति है. वर्तमान में नीतीश कैबिनेट में कुल मंत्रियों की संख्या 13 है. शिक्षा मंत्री बनाए गए मेवालाल इस्तीफा दे चुके हैं. ऐसे में अभी कैबिनेट में 23 मंत्रियों के शामिल होने की गुंजाइश बची है. चर्चा है कि भाजपा कोटे से 12 या 13 मंत्री और शामिल हो सकते हैं. हालांकि अंतिम रूप से अभी कुछ भी तय नहीं है.

Web Title: patna nitish kumar cabinet expansion bjp jdu minister formula speculation bihar jp nadda

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे