Kangana Ranaut Uproar Parliament BJP MP targeted Shiv Sena and termed Congress Army | कंगना रनौतः संसद में हंगामा, भाजपा सांसद ने शिवसेना पर निशाना साधा और कांग्रेस की सेना करार दिया
कंगना रनौत मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के मनाली की रहने वाली हैं। मनाली मंडी संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है।

Highlightsरनौत के साथ न सिर्फ वहां दुर्व्यवहार हुआ बल्कि करोड़ों की लागत वाले उनके कार्यालय को भी ध्वस्त कर दिया गया।हिमाचल प्रदेश से भाजपा के एक सांसद ने इस मुद्दे को उठाते हुए महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना पर निशाना साधा और उसे कांग्रेस की सेना करार दिया।‘‘शिवाजी के आदर्शों के साथ बाला साहब ठाकरे ने जिस शिव सेना को चलाया, आज वह शिव सेना कांग्रेस सेना बन कर रह गई है।’’

नई दिल्ली/मुंबईः महाराष्ट्र सरकार और फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के बीच चल रही तनातनी का मुद्दा मंगलवार को लोकसभा में गूंजा। हिमाचल प्रदेश से भाजपा के एक सांसद ने इस मुद्दे को उठाते हुए महाराष्ट्र की सत्तारूढ़ शिवसेना पर निशाना साधा और उसे कांग्रेस की सेना करार दिया।

शून्यकाल के दौरान इस मुद्दे को उठाते हुए मंडी के सांसद राम स्वरूप शर्मा ने कहा कि हिमाचल की बेटी कंगना रनौत के साथ महाराष्ट्र में पिछले दिनों जो व्यवहार हुआ उसकी भर्त्सना की जानी चाहिए। उन्होंने कि रनौत के साथ न सिर्फ वहां दुर्व्यवहार हुआ बल्कि करोड़ों की लागत वाले उनके कार्यालय को भी ध्वस्त कर दिया गया।

शर्मा ने कहा, ‘‘शिवाजी के आदर्शों के साथ बाला साहब ठाकरे ने जिस शिव सेना को चलाया, आज वह शिव सेना कांग्रेस सेना बन कर रह गई है।’’ शिवसेना महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के साथ मिलकर सत्ता में है। कंगना रनौत मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के मनाली की रहने वाली हैं। मनाली मंडी संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है।

गृह मंत्री ने पूर्व सैनिक पर हमले के मामले में भाजपा सांसद के खिलाफ जांच के आदेश दिए

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने जलगांव के भाजपा सांसद उनमेश पाटिल और उनके समर्थकों द्वारा चार साल पहले पूर्व सैनिक पर कथित रूप से हमले के मामले में तत्काल जांच करने के आदेश दिए हैं। एक वीडियो संदेश में देशमुख ने कहा कि 2016 में पूर्व सैनिक सोनू महाजन पर पाटिल और उनके समर्थकों ने हमला किया था, लेकिन पुलिस ने कथित तौर पर प्राथमिकी दर्ज नहीं की थी, क्योंकि उस वक्त भाजपा सत्ता में थी। पाटिल तब विधायक थे।

महाजन ने बंबई उच्च न्यायालय का रूख किया और अदालत के आदेश पर घटना की प्राथमिकी दर्ज की गई। देशमुख ने कहा, " प्राथमिकी 2019 में दर्ज की गई थी। पिछले चार-पांच दिनों के दौरान इसे लेकर मुझे कई ज्ञापन मिले हैं। लिहाजा मैंने जलगांव के पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया है कि मामले की तत्काल जांच हो।"

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने रविवार को आरोप लगाया था कि महाजन 2016 से इंसाफ के लिए लड़ रहे हैं जबकि उन पर "भाजपा विधायक उनमेश पाटिल के निर्देश पर हमला किया गया था, जो (पाटिल) अब सांसद बन गए हैं।" देशमुख ने जांच के आदेश ऐसे समय में दिए हैं जब महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना पूर्व नौसेना कर्मी मदन शर्मा पर हमले को लेकर आलोचना का सामना कर रही है।

पिछले हफ्ते मुंबई में शर्मा (62) पर हमला करने के आरोप में शिवसेना के छह कार्यकर्ताओं को मंगलवार को फिर से गिरफ्तार किया गया है। शर्मा ने मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का मजाक उड़ाने वाला कार्टून कथित रूप से सोशल मीडिया पर साझा किया था जिसके बाद उनपर हमला किया गया था। 

Web Title: Kangana Ranaut Uproar Parliament BJP MP targeted Shiv Sena and termed Congress Army
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे