Janata Dal United Rajya Sabha MP Harivansh files nomination for Deputy Chairman Rajya Sabha as NDA candidate | राज्यसभा उपसभापतिः जदयू सांसद हरिवंश ने किया नामांकन, 14 सितंबर को है चुनाव, तिरुचि शिवा हो सकते हैं विपक्षी प्रत्याशी
जदयू के राज्यसभा सदस्य हरिवंश का कार्यकाल समाप्त हो जाने के बाद यह पद रिक्त हो गया है।

Highlightsअगस्त, 2018 में कांग्रेस नेता पीजे कुरियन के कार्यकाल खत्म होने के बाद जेडीयू सांसद को उपसभापति बनाया गया था।आपको बता दें कि राज्यसभा के सांसद इसके लिए वोट करेंगे। अगर हरिवंश यह चुनाव जीतते हैं तो उनका यह दूसरा कार्यकाल होगा। मानसून सत्र के पहले दिन होने वाले राज्यसभा उपसभापति पद के चुनाव को लेकर विपक्ष भी एकजुट खड़ा दिखाई दे रहा है।

नई दिल्लीः जेडीयू सांसद हरिवंश ने राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए नामांकन पत्र दायर कर दिया। चुनाव 14 सितंबर को है। राज्यसभा के उपसभापति के चुनाव के मद्देनजर भाजपा ने अपने सभी राज्यसभा सांसदों को व्हिप किया जारी, भाजपा ने 14 सितंबर को सांसदों को सदन में उपस्थित रहने को कहा है। 

आपको बता दें कि राज्यसभा के सांसद इसके लिए वोट करेंगे। अगर हरिवंश यह चुनाव जीतते हैं तो उनका यह दूसरा कार्यकाल होगा। अगस्त, 2018 में कांग्रेस नेता पीजे कुरियन के कार्यकाल खत्म होने के बाद जेडीयू सांसद को उपसभापति बनाया गया था। बता दें कि ये चुनाव 14 सितंबर दोपहर तीन बजे तक होगा। इसके लिए 11 सितंबर को 12 बजे तक अपना नामांकन दाखिल किया जा सकता है।

राज्यसभा महासचिव ने जारी अधिसूचना में कहा है, 'सभापति ने काउंसिल ऑफ स्टेट्स की प्रक्रिया एवं कामकाज निष्पादन नियमावली की धारा सात के तहत उपसभापति के चुनाव के लिए 14 सितंबर की तिथि निर्धारित की है।'

एक बार फिर हरिवंश इस चुनाव में जीत हासिल कर सकते हैं

राज्यसभा में एनडीए के पास अब बहुमत के पास का आंकड़ा है, ऐसे में एक बार फिर हरिवंश इस चुनाव में जीत हासिल कर सकते हैं। हरिवंश नारायण सिंह की सदस्यता का पहला कार्यकाल इस साल 9 अप्रैल को पूरा हो चुका है, वह दोबारा निर्विरोध चुनकर आए हैं। हरिवंश नारायण सिंह का चुनाव 2018 के अगस्त में किया गया था, तब पीएम मोदी ने उनकी जमकर तारीफ की थी।

मानसून सत्र के पहले दिन होने वाले राज्यसभा उपसभापति पद के चुनाव को लेकर विपक्ष भी एकजुट खड़ा दिखाई दे रहा है। इस मामले के जानकार लोगों ने बताया कि विपक्ष इस चुनाव में संयुक्त उम्मीदवार उतारने जा रहा है। कांग्रेस के एक नेता ने बताया कि यह फैसला मंगलवार को हुई कांग्रेस की एक बैठक में लिया गया।

कांग्रेस ने मानसून सत्र आरंभ होने से पहले मंगलवार को निर्णय किया था कि राज्यसभा के उप सभापति के चुनाव के लिए विपक्ष की तरफ से साझा उम्मीदवार खड़ा किया जाएगा और इसके लिए समान विचारधारा वाले सभी दलों को साथ लेने का प्रयास होगा।

जनता दल यूनाइटेड के सांसद हरिवंश ने बुधवार को राज्यसभा के उपसभापति पद के लिये भाजपा नीत राजग के उम्मीदवार के रूप में नामांकन पत्र भरा। हरिवंश ने राज्यसभा के नेता थावरचंद गहलोत और राजग के सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल के नेता नरेश गुजराल की मौजूदगी में नामांकन पत्र दायर किया।

संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से शुरू होगा और 1 अक्तूबर तक चलेगा। राज्यसभा के उपसभापति का चुनाव संसद सत्र के पहले दिन होने की संभावना है। नामांकन पत्र भरने की प्रक्रिया 7 सितंबर से शुरू हुई है ओर 11 सितंबर को समाप्त होगी।

उपसभापति के चुनाव की जरूरत इसलिये हुई क्योंकि निवर्तमान हरिवंश का राज्यसभा के सदस्य के रूप में कार्यकाल इस वर्ष समाप्त हो गया । वर्ष 2018 में उन्होंने कांग्रेस के बी के हरिप्रसाद को पराजित किया था और उपसभापति चुने गए थे।

हरिवंश के इस बार भी निर्वाचित होने की संभावना है क्योंकि भाजपा के, सदन के प्रबंधकों को 140 सांसदों का समर्थन जुटाने का भरोसा है जिसमें वाईएसआर कांग्रेस, टीआरएस, बीजद शामिल हैं। गौरतलब है कि 245 सदस्यों वाले सदन में भाजपा नीत राजग के सदस्यों की संख्या 113 हो गई। वहीं, राजग के सदन प्रबंधक हरिवंश को सर्वसम्मति से चुने जाने के उद्देश्य से सभी दलों के साथ सहमति बनाने का प्रयास कर रहे हैं ।

अगर द्रमुक अपना उम्मीदवार उतारने के लिए तैयार नहीं होती है तो फिर कांग्रेस अपना उम्मीदवार खड़ा करेगी

सूत्रों ने यह भी बताया कि कांग्रेस उप सभापति पद के चुनाव में द्रमुक को उम्मीदवारी की पेशकश कर सकती है और तिरुचि शिवा उन लोगों में शामिल हैं जिनके नाम पर विचार चल रहा है। अगर द्रमुक अपना उम्मीदवार उतारने के लिए तैयार नहीं होती है तो फिर कांग्रेस अपना उम्मीदवार खड़ा करेगी। गौरतलब है कि उप सभापति पद के लिए चुनाव सत्र के पहले दिन 14 सितंबर को प्रस्तावित है। ऊपरी सदन में जदयू के राज्यसभा सदस्य हरिवंश का कार्यकाल समाप्त हो जाने के बाद यह पद रिक्त हो गया है।

हरिवंश फिर से राज्यसभा के सदस्य चुने गए हैं। कांग्रेस की बैठक में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, उप नेता आनंद शर्मा, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, दोनों सदनों के मुख्य सचेतक, पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी और कुछ अन्य नेता शामिल हुए। आजाद, शर्मा और तिवारी उन 23 नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने कांग्रेस में व्यापक संगठनात्मक बदलाव की मांग को लेकर सोनिया गांधी को पत्र लिखा था।

Web Title: Janata Dal United Rajya Sabha MP Harivansh files nomination for Deputy Chairman Rajya Sabha as NDA candidate
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे