In the Sushant case, Sharad Pawar said - Everyday more than 20 farmers commit suicide, there is no question about it, so why so much discussion about it? | सुशांत मामले में शरद पवार ने कहा- हर रोज 20 से अधिक किसान आत्महत्या करते हैं, उसपर कोई बात नहीं तो इसपर इतनी चर्चा क्यों?
शरद पवार (फाइल फोटो)

Highlightsशरद पवार ने कहा कि पार्थ पवार की बातों पर मुझे कुछ नहीं कहना है, वह अभी पूरी तरह से अपरिपक्व हैं।नीरज कुमार सिंह बब्लू के वकील ने संजय राउत को वकालतन(कानूनी) नोटिस भेजा है। एनसीपी नेता माजिद मेनन ने ट्वीट कर लिखा, 'सुशांत अपने जीवनकाल के दौरान उतने प्रसिद्ध नहीं थे जितने कि मृत्यु के बाद हैं।

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत मामले में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक व्यक्ति आत्महत्या करके मर गया, लेकिन इसकी इतनी चर्चा क्यों हो रही है? मुझे नहीं लगता कि यह इतना बड़ा मुद्दा है। एक किसान ने मुझे बताया कि 20 से अधिक किसान आत्महत्या कर चुके हैं, किसी ने भी इस बारे में बात नहीं की। 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने 50 साल से मुंबई पुलिस को करीब से देखा है। मुझे यहां की पुलिस पर व राज्य की सिस्टम पर पूरा भरोसा है। यदि कोई महाराष्ट्र पुलिस पर सवाल खड़े कर रहा है तो मुझे उसपर कुछ नहीं कहना है। यदि कोई इस मामले में सीबीआई जांच की अपील करता है तो मैं इसका विरोध नहीं कर रहा हूं। 

जब शरद पवार से पूछा गया कि पार्थ पवार ने इस मामले की सीबीआई जांच की बात कही है। तो शरद पवार ने कहा कि पार्थ पवार की बातों पर मुझे कुछ नहीं कहना है, वह अभी पूरी तरह से अपरिपक्व हैं।

सुशांत सिंह राजपूत को लेकर बोले NCP नेता- मरने के बाद हुए लोकप्रिय-

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता माजिद मेमन ने सुशांत सिंह राजपूत को लेकर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'सुशांत अपने जीवनकाल के दौरान उतने प्रसिद्ध नहीं थे जितने कि मृत्यु के बाद हैं। प्रधानमंत्री और अमेरिकी राष्ट्रपति से कहीं ज्यादा मीडिया अब सुशांत को स्पेस दे रहा है।'

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा, 'जब कोई अपराध जांच चरण में होता है, तो गोपनीयता को बनाए रखना पड़ता है। महत्वपूर्ण साक्ष्य एकत्र करने की प्रक्रिया में हर पहलू को सार्वजनिक करना सच्चाई और न्याय के हित पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है।'

संजय राउत को सुशांत सिंह राजपूत के पिता पर बयान देने को लेकर भेजा गया नोटिस-

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर बिहार की राजनीति गर्मा गई है। सुशांत राजपूत के चचेरे भाई और भाजपा विधायक नीरज कुमार सिंह बब्लू शिवसेना सांसद संजय राउत के खिलाफ मानहानि का केस करने की तैयारी में जुटे हुए हैं।

नीरज कुमार सिंह बब्लू के वकील ने संजय राउत को वकालतन(कानूनी) नोटिस भेजा है। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह पर की गई टिप्पणी से आहत होकर नीरज कुमार सिंह बब्लू को यह कदम उठाना पड़ा है।

दरअसल, शिवसेना के सांसद ने सुशांत के पिता पर दूसरी शादी करने सहित कई अन्य आरोप लगाते मीडिया में बयान दिया था। मुंबई से प्रकाशित शिवसेना के मुखपत्र सामना में भी संजय राउत ने लिखते हुए उनके उपर टिप्पणी की थी।

Web Title: In the Sushant case, Sharad Pawar said - Everyday more than 20 farmers commit suicide, there is no question about it, so why so much discussion about it?
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे