मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह के बंगले के बाहर धरने पर बैठे छोटे भाई लक्ष्मण सिंह

By भाषा | Published: October 22, 2019 08:29 PM2019-10-22T20:29:29+5:302019-10-22T20:29:29+5:30

दिग्विजय अपने बंगले में आये, लेकिन उनके इस धरने को नजरअंदाज करते हुए सीधे अपने घर के अंदर घुस गये। धरने पर बैठे चाचौड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक लक्ष्मण सिंह ने मीडिया को बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ 26 जुलाई को सार्वजनिक रूप से उनके विधानसभा क्षेत्र को जिला बनाने की घोषणा कर चुके हैं।

Former Madhya Pradesh CM and Congress MP Digvijay Singh's younger brother Lakshman Singh sitting on dharna outside the bungalow | मप्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह के बंगले के बाहर धरने पर बैठे छोटे भाई लक्ष्मण सिंह

लक्ष्मण ने कहा कि चाचौड़ा को जिला बनाये जाने की घोषणा कमलनाथ जुलाई में ही कर चुके हैं।

Next
Highlightsमुख्यमंत्री ने कहा था कि वह दिग्विजय सिंह के साथ चाचौड़ा आएंगे। इसलिए दिग्विजय तिथि दे दें।बस हम यही चाहते हैं। जल्द से जल्द चाचौड़ा आकर उसे जिला बनाने की घोषणा को अमलीजामा पहनाएं।

मध्य प्रदेश के चाचौड़ा को राज्य का 53वां जिला बनाये जाने की मांग को लेकर कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बंगले के बाहर उनके ही छोटे भाई एवं कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए।

इस दौरान, दिग्विजय अपने बंगले में आये, लेकिन उनके इस धरने को नजरअंदाज करते हुए सीधे अपने घर के अंदर घुस गये। धरने पर बैठे चाचौड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक लक्ष्मण सिंह ने मीडिया को बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ 26 जुलाई को सार्वजनिक रूप से उनके विधानसभा क्षेत्र को जिला बनाने की घोषणा कर चुके हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ने कहा था कि वह दिग्विजय सिंह के साथ चाचौड़ा आएंगे। इसलिए दिग्विजय तिथि दे दें। बस हम यही चाहते हैं। जल्द से जल्द चाचौड़ा आकर उसे जिला बनाने की घोषणा को अमलीजामा पहनाएं।’’

जब उनसे सवाल किया गया कि आपको दिग्विजय के बंगले की बजाय धरना देने मुख्यमंत्री निवास पर जाना चाहिए था, तो इस पर लक्ष्मण ने कहा कि चाचौड़ा को जिला बनाये जाने की घोषणा कमलनाथ जुलाई में ही कर चुके हैं। इसलिए वहां जाने की जरूरत नहीं है। दिग्विजय तिथि बताएं, कब मुख्यमंत्री के साथ चाचौड़ा आएंगे।

लक्ष्मण ने इशारों-इशारों में दिग्विजय पर निशाना साधते हुए कहा कि चाचौड़ा ने दिग्विजय को सब कुछ दिया और इसके बावजूद वह पिछले आठ साल से वहां नहीं गए हैं। बता दें कि इस बार मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद लक्ष्मण सिंह मंत्री पद के दावेदार थे, लेकिन वह मंत्री नहीं बन सके, जबकि दिग्विजय सिंह के पुत्र जयवर्धन सिंह को मंत्री पद मिल गया। 

Web Title: Former Madhya Pradesh CM and Congress MP Digvijay Singh's younger brother Lakshman Singh sitting on dharna outside the bungalow

राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे