Congress leader Arjun Singh's statue replaced by half-statue of Chandrashekhar Azad in Bhopal, controversy, BJP objected | भोपाल में चंद्रशेखर आजाद की अर्ध-प्रतिमा की जगह लगी कांग्रेस नेता अर्जुन सिंह की प्रतिमा, विवाद, भाजपा ने आपत्ति जताई
अर्जुन सिंह की प्रतिमा लगाने का स्थान कांग्रेस नेताओं और बीएमसी के अधिकारियों ने तय किया है।

Highlightsशिवराज सिंह चौहान ने मांग की कि इस स्थान पर फिर से महान क्रांतिकारी आजाद की प्रतिमा लगाई जाए।पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, ‘‘ प्रतिमा के साथ ऐसा कृत्य, मध्य प्रदेश शर्मिंदा है।

मध्य प्रदेश में विपक्षी दल भाजपा ने यहां एक तिराहे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की आदमकद प्रतिमा लगाये जाने पर रविवार को आपत्ति जताई।

शहर के एक तिराहे पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन सिंह की आदमकद प्रतिमा लगाने पर विवाद खड़ा हो गया है। इसी स्थान पर यहां पहले स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी नेता चंद्रशेखर आजाद की अर्ध-प्रतिमा लगी थी। भाजपा ने इस स्थान पर सिंह की प्रतिमा लगाये जाने पर आपत्ति जताते हुए यहां पर आजाद की अर्ध-प्रतिमा पुन: लगाने की मांग की है।

भोपाल नगर निगम (बीएमसी) के अधिकारियों के मुताबिक क्षेत्र में यातायात में सुधार के लिये न्यू मार्केट इलाके में लिंक रोड नंबर-एक पर स्थित इस तिराहे की रोटरी से लगभग तीन साल पहले आजाद की अर्ध-प्रतिमा को हटाया गया था।

अधिकारी ने बताया कि आजाद की अर्ध-प्रतिमा रोटरी से हटाकर पास ही सड़क के किनारे एक स्थान पर लगायी गई थी। अब, हालांकि भाजपा शासित बीएमसी ने रोटरी में उसी स्थान पर कांग्रेस नेता अर्जुन सिंह की आमदकद प्रतिमा स्थापित की है, जहां रोटरी में पहले आजाद की अर्ध-प्रतिमा लगाई गयी थी।

इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने मांग की कि इस स्थान पर फिर से महान क्रांतिकारी आजाद की प्रतिमा लगाई जाए। पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, ‘‘ प्रतिमा के साथ ऐसा कृत्य, मध्य प्रदेश शर्मिंदा है।

इस दुस्साहस के लिए दोषियों को तत्काल कड़ी से कड़ी सजा और उचित सम्मान के साथ मां भारती के सपूत (चन्द्रशेखर आजाद) की प्रतिमा पुनः स्थापित हो, अन्यथा देश स्वयं को कभी माफ न कर सकेगा।’’ भाजपा से ताल्लुक रखने वाले भोपाल के महापौर आलोक शर्मा ने आरोप लगाया कि अर्जुन सिंह की प्रतिमा लगाने के बारे में उनसे नहीं पूछा गया।

उन्होंने कहा, ‘‘ बीएमसी के अधिकारियों ने इस संबंध में मुझसे नहीं पूछा। अर्जुन सिंह की प्रतिमा लगाने का स्थान कांग्रेस नेताओं और बीएमसी के अधिकारियों ने तय किया है।’’ गौरतलब है कि बीएमसी में अधिकारियों की नियुक्ति प्रदेश सरकार द्वारा की जाती है।

उधर, बीएमसी आयुक्त बी विजय दत्ता ने बताया कि इस मुद्दे पर मेयर से चर्चा हुई थी। दत्ता ने कहा, ‘‘हमने बात की थी और मेयर से सहमति भी मांगी थी।’’ उन्होंने कहा कि यातायात सुधारने और सड़क चौड़ीकरण के लिये तीन साल पहले आजाद की अर्ध-प्रतिमा को रोटरी से हटाकर दूसरी जगह लगाया गया था लेकिन अब तिराहे पर ऐसी कोई समस्या नहीं हैं।

अर्जुन सिंह की प्रतिमा का अनावरण 11 नवंबर को निर्धारित किया गया था, लेकिन अयोध्या मामले में शीर्ष अदालत के फैसले के मद्देनजर शहर में निषेधाज्ञा लागू होन के बाद इसे स्थगित कर दिया गया है।


Web Title: Congress leader Arjun Singh's statue replaced by half-statue of Chandrashekhar Azad in Bhopal, controversy, BJP objected
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे