ashok Gehlot camp in touch with rebel MLAs of Sachin Pilot faction, may return some tonight | सचिन पायलट गुट के बागी विधायकों के संपर्क में गहलोत कैंप, आज रात कुछ की हो सकती है वापसी
सचिन पायलट (फाइल फोटो)

Highlightsअशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर लगाए गंभीर आरोप, कहा विधायक के खरीद फरोख्त में शामिल थे।बीटीपी विधायक ने कहा था कि उन्हें घर से निकलने से राजस्थान पुलिस रोक रही है।गोविंद सिंह डोटासरा को राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी का नया अध्यक्ष बनाया गया है।

जयपुर:राजस्थान के सियासी घमासान में यह बड़ी खबर सामने आ रही है कि अशोक गहलोत कैंप के लोग सचिन पायलट कैंप के बागी विधायकों के संपर्क में हैं। एनडीटीवी की मानें तो देर रात पायलट गुट के कुछ विधायक राजस्थान पहुंच सकते हैं। 

सूत्रों के हवाले से एनडीटीवी ने कहा कि सीएम गहलोत कुछ बागी विधायकों के संपर्क में हैं जो पार्टी में वापस आना चाहते हैं। स्‍पीकर की ओर से अयोग्य करार देने की धमकी वाले नोटिस के बाद गहलोत खेमे के कुछ (3 से ज्यादा) बागी विधायक आज रात तक लौट आएंगे।

अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर लगाया बड़ा आरोप-

बता दें कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का सचिन पायलट पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने कहा कि अच्छी अंग्रेजी बोलना, बाइट देना और हैंडसम होना ही सबकुछ नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने सचिन पायलट से सवाल पूछते हुए कहा कि आपके दिल में देश के लिए क्या है?, आपकी आइडियोलॉजी क्या है?, आपके पॉलिसी क्या है? और आपके कमिटमेंट क्या है?

इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि मैं 40 साल से राजनीति में हूं, हम नई पीढ़ी से प्यार करते हैं, भविष्य उनका होगा।  इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यह नई पीढ़ी के लोग जो केंद्रीय मंत्री व राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष बनाए गए थे, उन्होंने क्या लोगों के लिए क्या काम किया है। 

यही नहीं अशोक गहलोत ने नाम लिए बिना कहा है कि भाजपा के साथ सचिन पायलट हॉर्स ट्रेडिंग में लगे हुए थे। गहलोत ने कहा कि हमारे पास सबूत हैं कि वह सभी लोग विधायकों के खरीद फरोख्त में लगे हुए थे। 

सचिन पायलट के साथी को भी मंत्री पद से हटाया गया-

जयपुर में कांग्रेस विधायक दल की लगातार आज दूसरी बैठक में सचिन पायलट शामिल नहीं हुए। इसके बाद ये कार्रवाई की गई है। इसके अलावा बागी हुए विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीणा को भी मंत्री पदों से हटाया गया है। राजस्थान कैबिनेट में विश्वेंद्र सिंह पयर्टन मंत्री और रमेश मीणा खाद्य आपूर्ति मंत्री के पद पर थे।

सुरजेवाला ने पायलट से पद छीनने की घोषणा करते हुए कहा कि छोटी उम्र में पार्टी ने उन्‍हें जो राजनीतिक ताकत दी, वह किसी और को नहीं दी गई। सुरजेवाला ने साथ ही कहा, 'सचिन पायलट और कांग्रेस के कुछ मंत्री और विधायक साथी भाजपा के षडयंत्र में उलझकर कांग्रेस की सरकार को गिराने की साजिश में शामिल हो गए। पिछले 72 घंटे में सोनिया गांधी समेत राहुल गांधी और कांग्रेस के नेतृत्व ने कई बार सचिन पायलट से संपर्क करने की कोशिश की।'

गोविंद सिंह डोटासरा को पायलट की जगह पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बने-

रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि गोविंद सिंह डोटासरा को पायलट की जगह पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। जयपुर में कांग्रेस विधायक दल की लगातार आज दूसरी बैठक में सचिन पायलय शामिल नहीं हुए।

इसके बाद ये कार्रवाई की गई है। इसके अलावा बागी हुए विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीणा को भी मंत्री पदों से हटाया गया है।

इस कदम के कयास पहले से लगाए जा रहे थे। दरअसल सोमवार से ही कांग्रेस की ओर से कहा जा रहा है कि पार्टी के नेतृत्व की ओर से कई बार सचिन पायलट को मनाने की कोशिशें हो चुकी हैं।

सूत्रों के अनुसार जयपुर के फेयरमॉन्ट होटल में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मौजूद 102 MLA ने निर्विरोध तौर पर सचिन पायलट को पार्टी से बाहर निकालने की मांग की थी। 

Web Title: ashok Gehlot camp in touch with rebel MLAs of Sachin Pilot faction, may return some tonight
राजनीति से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे