प्रधानमंत्री वय वंदना योजनाः वरिष्ठ नागरिकों के लिए पेंशन स्कीम, जानिए इसके बारे में...

Published: June 18, 2021 02:16 PM2021-06-18T14:16:03+5:302021-06-18T14:16:03+5:30

Next

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का शुभारम्भ 4 मई 2017 को भारत सरकार द्वारा देश के वरिष्ठ नागरिकों के लिए किया गया है। यह एक पेंशन स्कीम है।

योजना के अंतर्गत 60 साल के या उससे अधिक वर्ष के सीनियर सिटिज़न मासिक पेंशन का विकल्प चुनते है तो उन्हें 10 वर्षों तक 8 % का ब्याज मिलेगा ।

अगर वह वार्षिक पेंशन विकल्प चुनते है तो उन्हें 10 वर्षों के लिए 8 .3 % का ब्याज मिलेगा। प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को अपने निवेश पर अच्छा ब्याज मिलेगा।

1000 रुपये मासिक पेंशन के लिए ग्राहक को न्यूनतम 1.62 लाख रुपये निवेश करने होंगे. तिमाही पेंशन के लिए 1.61 लाख, छमाही के लिए 1.59 लाख और सालाना पेंशन के लिए न्यूनतम 1.56 लाख रुपये निवेश करने होंगे।

अधिकांश मासिक पेंशन 9250 रुपये है - वय वंदना योजना में अधिकांश मासिक पेंशन 9250 रुपये होगी। त्रैमासिक पेंशन 27,750 रुपये, अर्धवार्षिक पेंशन 55,500 रुपये और अधिकतम वार्षिक पेंशन 1,11,000 रुपये है। इस योजना में अधिकतम कोई भी निवेश कर सकते हैं।

योजना एक Social Security Scheme तथा पेंशन प्लान है यह योजना भारत सरकार की है लेकिन LIC द्वारा चलायी जा रही है।

प्रधानमंत्री आयु वंदना योजना (PMVVY) के तहत बुजुर्गों को पेंशन प्रदान की जाती है। इस योजना को एलआईसी के तहत रखा गया है। पेंशन योजना होने के कारण इस योजना का लाभ 60 वर्ष की आयु के बाद लिया जा सकता है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के अंतर्गत आप लोन भी प्राप्त कर सकते हैं। यह लोन पॉलिसी पूरे होने के 3 साल बाद प्राप्त किया जा सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत आपको भुगतान की गई राशि का 75% तक प्रदान किया जा सकता है। इस लोन पर ब्याज दर 10% पर एनम चार्ज की जाएगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना को खास तौर पर उन वृद्ध नागरिकों के लिए आरंभ किया गया है जिनकी आयु 60 वर्ष की है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2021 के अंतर्गत सीनियर सिटिज़न अधिकतम 15 लाख रुपये का निवेश कर सकते है। इस योजना की पालिसी की अवधि 10 वर्ष की है। पीएमवीवीवाई योजना देश के वरिष्ठ नागरिकों को वृद्धावस्था आय सुरक्षा प्रदान करती है। इस योजना के तहत आपको GST नहीं देनी होगी।