Putting money in PPF benefits during Slow economic know how | मंदी के दौर में भी पीपीएफ में पैसे लगाना होगा फायदेमंद, जानिए कैसे
मंदी के दौर में भी पीपीएफ में पैसे लगाना होगा फायदेमंद, जानिए कैसे

भारतीय अर्थव्यवस्था में इस वक्त मंदी के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में निवेशकों को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है। मंदी का असर ने सिर्फ बाजारों पर पड़ रहा है बल्कि म्यूचुअल फंड निवेशकों पर भी हुआ है। लेकिन इस दौर में भी पीपीएफ निवेशकों के लिए फायदेमंद साबित हुआ। 

हिंदुस्तान में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक पांच साल के औसत रिटर्न के मुकाबले पीपीएफ ने म्यूचुअल फंड को पीछे छोड़ा दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक पीपीएफ ने 2014-19 के दौरान 8.21% औसत रिटर्न दिया है। वहीं लॉर्ज कैप म्यूचुअल फंड ने 7.79% औसत रिटर्न दिया है। 

बता दें कि बिना जोखिम वाले पीपीएफ में अधिक रिटर्न मिला। तो ऐसे में निवेशकों को घबराने की जरूरत नहीं है। 

जानिए क्या होता है पीपीएफ 

पब्लिक प्रोविडेंट फण्ड (पीपीएफ) एक सेविंग स्कीम होती है, जिसे केंद्र सरकार द्वारा लागू किया गया था। पीपीएफ में निवेश करने से आपको इनकम टैक्स में भी छूट प्राप्त होती है। पीपीएफ में मिनिमम 500 रुपये से 1,50,000 तक इन्वेस्ट किया जा सकता है। जिसे आप महीने या फिर एनुअली जमा करवा सकते है। लेकिन एक फाइनेंसियल ईयर में आप 12 बार से ज्यादा ppf account में जमा नहीं करवा सकते।


Web Title: Putting money in PPF benefits during Slow economic know how
पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे