Income tax department issues new ITR forms disclosure of electricity bill over Rs 1 lakh mandatory | इनकम टैक्स भरने वाले ध्यान दें, आयकर रिटर्न के नए फॉर्म जारी, इन नियमों में हुआ बदलाव
केंद्र सरकार ने इनकम टैक्स रिटर्न भरने वालों के लिए कुछ नियमों में संशोधन किया है (लोकमत फाइल फोटो)

Highlightsसरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि पहले ही बढ़ाकर 30 नवंबर 2020 कर दी है। एक लाख रुपये से अधिक बिजली खपत के बिल जैसे ऊंचे लेनदेन से जुड़ी जानकारियां देना अनिवार्य होगा।

इनकम टैक्स भरने वालों के लिए जरूरी खबर है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने साल 2019-20 की आय का ब्योरा देने वालो के लिए नए इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म जारी कर दिए हैं। इसके अलावा अब उन लोगों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करना जरूरी हो गया है जिनका पिछले वित्त वर्ष में बिजली का बिल 1 लाख रुपये से ज्यादा आया है। इसके अलावा जिनके भी करंट अकाउंट में एक करोड़ से ज्यादा राशि जमा रही है और जिन लोगों ने पिछले साल विदेश यात्रा पर दो लाख रुपये से ज्यादा खर्च किया है, उन्हें भी आयकर भरना होगा।

नए आयकर रिटर्न फॉर्म में करदाताओं को वर्ष के दौरान कुछ बड़े खर्चों के बारे में जानकारी देना अनिवार्य कर दिया है। किसी आवासीय संपत्ति के संयुक्त मालिक आईटीआर-1 सहज फॉर्म भरकर रिटर्न दाखिल कर सकते हैं। नए आयकर रिटर्न फॉर्म में अनुसूची-डीआई को भी जोड़ा गया है। इसके तहत टैक्सपैयर्स को एक अप्रैल 2020 से 30 जून 2020 के बीच कर-बचत योजनाओं में किए गए निवेश अथवा किए गए अनुदान की अलग से जानकारी देनी होगी। इसका लाभ करदाता को 2019-20 के आयकर में ही मिलेगा। 

सरकर ने आयकर अधिनियम-1961 के तहत रिटर्न दाखिल करने की समयसीमा में कई रियायतें दी हैं। इसके लिए सरकार कराधान एवं अन्य अधिनियम (कुछ प्रावधानों से राहत) अध्यादेश- 2020 लेकर आयी है। सरकार ने टैक्स ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने की अंतिम तिथि भी एक महीना बढ़ा दी है।

इसके हिसाब से आयकर की धारा 80सी (जीवन बीमा, लोक भविष्य निधि, राष्ट्रीय बचत पत्र इत्यादि), 80डी (स्वास्थ्य बीमा) और 80जी (दान) इत्यादि के तहत ली जाने वाली छूट के लिए अंतिम निवेश तिथि बढ़ाकर 30 जून 2020 कर दी गयी है। यानी इनमें 30 जून 2020 तक किये गये निवेश पर कर छूट का लाभ पिछले वित्त वर्ष की आय में मिल सकता है। नए फॉर्म में वित्त वर्ष 2019-20 के लिए निवेश छूट का लाभ उठाने के लिए 2020-21 की पहली तिमाही में किए गए निवेश की अलग से जानकारी देने की जरूरत होगी। 
 

Web Title: Income tax department issues new ITR forms disclosure of electricity bill over Rs 1 lakh mandatory
पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे