ओलंपिक में मुक्केबाजी के स्थान को लेकर आईओसी ने गहरी चिंता जतायी

By भाषा | Published: September 15, 2021 07:11 PM2021-09-15T19:11:47+5:302021-09-15T19:11:47+5:30

IOC expresses deep concern about boxing's place in Olympics | ओलंपिक में मुक्केबाजी के स्थान को लेकर आईओसी ने गहरी चिंता जतायी

ओलंपिक में मुक्केबाजी के स्थान को लेकर आईओसी ने गहरी चिंता जतायी

Next

लुसाने, 15 सितंबर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) के संचालन ढांचे, वित्तीय स्थिति और स्कोरिंग प्रणाली के ‘अनसुलझे’ मुद्दों का हवाला देते हुए बुधवार को पेरिस ओलंपिक 2024 में मुक्केबाजी के स्थान को लेकर गहरी चिंता व्यक्त की जिसके बाद एआईबीए ने निर्धारित मानदंडों को जल्द पूरा करने का वादा किया।

एआईबीए अध्यक्ष उमर क्रेमलेव को भेजे गये पत्र में आईओसी महानिदेशक क्रिस्टोफ डि केपर ने कहा कि ओलंपिक संस्था के कार्यकारी बोर्ड ने उन्हें और अपने मुख्य आचार अधिकारी से स्थिति पर आगे कार्रवाई करने के लिये कहा है।

एआईबीए ने इसके जवाब में कहा कि वह आईओसी की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिये अपनी तरफ से हर संभव कार्य कर रहा है।

एआईबीए ने आईओसी के पत्र के जवाब में पीटीआई को भेजे गये ईमेल में कहा, ‘‘एआईबीए पिछले कुछ समय से व्यापक सुधारों की तरफ काम कर रहा है और वह आभारी है कि आईओसी ने सार्वजनिक तौर पर यह स्वीकार किया है सुशासन के लिये कदम उठाये गये हैं। ’’

आईओसी ने अपने चार पेज के पत्र में एआईबीए द्वारा अपने शासन, वित्त और रेफरी व जज प्रणाली पर किये गये कार्यों को लेकर असंतोष व्यक्त किया है। इन सभी मामलों में रियो ओलंपिक 2016 के बाद से ही गहन जांच चल रही है।

पत्र में कहा गया है, ‘‘उपरोक्त आधार पर आईओसी कार्यकारी बोर्ड ने पेरिस ओलंपिक खेल 2024 और भविष्य के ओलंपिक खेलों के कार्यक्रम में मुक्केबाजी के स्थान को लेकर फिर से अपनी गहरी चिंता व्यक्त की है।’’

आईओसी ने स्वीकार किया कि एआईबीए ने बेहतर शासन की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाया है लेकिन कई अन्य मसले हैं जिनका समाधान करना बाकी है।

एआईबीए ने कहा कि वह आईओसी का विश्वास जीतने के लिये उम्मीद से अधिक काम करेगा।

विश्व मुक्केबाजी संस्था ने कहा, ‘‘वित्तीय समग्रता, सुशासन और खेल अखंडता के मामले में व्यापक सुधार चल रहे हैं। इनमें वे सभी क्षेत्र शामिल हैं जिनका जिक्र आईओसी ने किया है।’’

उसने कहा, ‘‘प्रत्येक क्षेत्र में स्वतंत्र विशेषज्ञ शामिल हैं। एआईबीए को विश्वास है कि ये सुधार कार्य आईओसी के बहाली के लिये तय किये गये मानदंडों को पूरा करेंगे।’’

एआईबीए को 2019 में निलंबित कर दिया गया था लेकिन क्रेमलेव ने कहा था कि उन्हें इस साल के आखिर तक आईओसी से फिर से मान्यता मिलने की उम्मीद है। उन्होंने विश्व की सर्वोच्च खेल संस्था द्वारा उठाये गये मुद्दों के निराकरण के लिये कई उपायों की घोषणा करते हुए यह बात कही थी।

तोक्यो ओलंपिक खेलों में मुक्केबाजी प्रतियोगिता का आयोजन आईओसी कार्यबल ने किया था तथा उसने एआईबीए से अधिकारियों का चयन करने के लिये मुक्केबाजी कार्यबल के तौर तरीकों को अपनाने के लिये कहा है।

आईओसी अगले महीने सर्बिया में होने वाली विश्व चैंपियनशिप में ‘लाइव स्कोरिंग’ प्रणाली भी चाहता है।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: IOC expresses deep concern about boxing's place in Olympics

अन्य खेल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे