IOC declines to blame Olympic boxing event for corona virus cases | तीन मुक्केबाज हुए कोरोना संक्रमित, IOC की सफाई, 'वायरस मामलों के लिये ओलंपिक मुक्केबाजी प्रतियोगिता दोषी नहीं'
आईओसी ने तुर्की के मुक्केबाजों के कोरोना से संक्रमित पाए जाने के लिए ओलंपिक प्रतियोगिता को दोषी ठहराए जाने को बताया गलत

HighlightsIOC का मुक्केबाजी कार्यबल और लंदन की स्थानीय आयोजन समिति इस आयोजन के लिये जिम्मेदार: तुर्कीलंदन में ओलंपिक क्वॉलिफाईंग टूर्नामेंट के दौरान तुर्की के तीन मुक्केबाजों और कोच कोरोना से संक्रमित

लुसाने: अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने गुरुवार को कहा कि वह इस महीने लंदन में ओलंपिक मुक्केबाजी टूर्नामेंट और वहां रहे लोगों के कोरोना वायरस परीक्षण में ‘पॉजिटिव’ पाये जाने के बीच किसी तरह के संबंध से अवगत नहीं है। तुर्की मुक्केबाजी महासंघ ने कहा कि उसका एक मुक्केबाज और एक ट्रेनर ओलंपिक क्वॉलिफाईंग टूर्नामेंट में भाग लेने के बाद कोविड-19 से संक्रमित पाया गया है।

इस टूर्नामेंट का आयोजन आईओसी कर रही थी जिसे तीसरे दिन ही 16 मार्च को रोक दिया गया था। आईओसी ने बयान में कहा, ‘‘संक्रमण के स्रोत को जानना संभव नहीं है। कई भागीदार 14 मार्च को प्रतियोगिता शुरू होने से पहले इटली, ब्रिटेन और अपने देशों में अभ्यास केंद्रों में थे और कुछ दिन बाद ही स्वदेश लौट गये थे।’’

विश्व मुक्केबाजी की संस्था एआईबीए के निलंबन के कारण ओलंपिक मुक्केबाजी की जिम्मेदारी आईओसी संभाल रही है। उसने क्वॉलिफाईंग टूर्नामेंटों के आयोजन के लिये कार्यबल गठित किया है और लंदन यूरोपीय दौर के मुकाबलों की मेजबानी कर रहा था।

आईओसी ने कहा, ‘‘लंदन में यूरोपीय क्वॉलिफायर के समय ब्रिटेन में कई खेल और अन्य प्रतियोगिताएं चल रही थी, क्योंकि सार्वजनिक कार्यक्रमों पर सरकार ने कोई पाबंदी या परामर्श जारी नहीं किया था।’’

मुक्केबाजों के संक्रमित होने पर आईओसी पर बरसा तुर्की

इस्तांबुल: तुर्की मुक्केबाजी महासंघ ने लंदन में ओलंपिक क्वॉलिफाईंग टूर्नामेंट के दौरान अपने तीन मुक्केबाजों और कोच के कोरोना वायरस के संक्रमण में आने पर गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) और स्थानीय आयोजकों को आड़े हाथों लिया। लंदन में इस प्रतियोगिता में यूरोपीय देशों के लिये लगभग 350 पुरुष और महिला मुक्केबाजों ने हिस्सा लिया था। यह यूरोप से तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वॉलिफाई करने का पहला मौका था।

तुर्की मुक्केबाजी महासंघ के अध्यक्ष इयुप गोजेक ने एएफपी से फोन पर कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति का मुक्केबाजी कार्यबल और लंदन की स्थानीय आयोजन समिति इस आयोजन के लिये जिम्मेदार है। जब दिसंबर से इस महामारी के कारण पूरा विश्व सतर्क था तब उन्होंने ऐसा व्यवहार किया मानो कुछ हुआ ही न हो और टूर्नामेंट स्थगित नहीं किया।’’ महासंघ ने इससे पहले कहा है कि लंदन में ओलंपिक क्वॉलिफाइंग टूर्नामेंट में भाग लेने वाले राष्ट्रीय टीम के सदस्य सेरहाट गुलेर और ट्रेनर सैफुल्लाह डी कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजीटिव पाये गए हैं।

महासंघ ने बताया कि मुक्केबाजी टीम तीन मार्च को अभ्यास शिविर के लिये शेफील्ड गई थी और 11 मार्च को लंदन पहुंची। टीम के सभी सदस्य एक ही होटल में रूके थे और एक ही कैफे में खाते थे। मुक्केबाजी के क्वालीफाइंग टूर्नामेंट आईओसी करा रही है क्योंकि मुक्केबाकी की शीर्ष संस्था एआईबीए निलंबित है। तुर्की की टीम 17 मार्च को लौटी जब टूर्नामेंट बीच में ही रोक दिया गया। सभी सदस्यों ने खुद को अलग कर लिया था। 

Web Title: IOC declines to blame Olympic boxing event for corona virus cases
अन्य खेल से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे