Rail projects of Maharashtra accelerated, budget increased upto 345 percent | महाराष्ट्र की रेल परियोजनाओं के काम में तेजी, मोदी सरकार के आने के बाद बजट में 345% की वृद्धि
महाराष्ट्र में रेल परियोजनाओं के काम में तेजी (फाइल फोटो)

Highlightsनरेंद्र मोदी की सरकार आने के बाद महाराष्ट्र में पड़ने वाली रेल परियोजनाओं के काम में तेजीसरकार के अनुसार फिलहाल फिलहाल लगभग 6722 किलोमीटर लंबी 39 रेल परियोजनाओं पर काम किया जा रहा है

केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार आने के बाद महाराष्ट्र में पड़ने वाली रेल परियोजनाओं के बजट में 345 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की गई है. महाराष्ट्र में फिलहाल लगभग 6722 किलोमीटर लंबी 39 रेल परियोजनाओं पर काम किया जा रहा है.

लगभग 87000 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली इन परियोजनाओं में नई 16 नई लाइन परियजनाएं, 5 अमान परिवर्तन तथा 18 लाइनों का दोहरीकरण शामिल है. इनमें 2 ऐसी परजिोयजनाएं भी शामिल हैं जो पिछले 25 साल से पूरी होने का इंतजार कर रही हैं.

रेलमंत्री पीयूष गोयल के अनुसार 2009 से 2014 के बीच महाराष्ट्र की रेल परियोजनाओं के लिए वार्षिक बजट में से 1171 करोड़ रुपए दिए गए लेकिन 2014-19 के बीच प्रतिवर्ष 5,214 करोड़ रुपए किया गया है. 2020-21 में बजट आबंटन में 40 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी करके 6,700 करोड़ रुपए किया गया है.

किस परियोजना पर कितना काम हुआ पूरा

लोकसभा में एक सवाल के जवाब में मंत्री द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार राज्य में 2017 किलोमीटर लंबाई की 16 नई लाइन परियजनाएं बनाई जा रही हैं. जिनमें 62 किलोमीटर पर काम पूरा कर लिया गया है.

42,003 करोड़ रुपए लागत वाली की इन परियोजनाओं पर मार्च 2020 तक 4141 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके थे. इसके अतिरिक्त 1,146 किलोमीटर की 5 परियोजनाओं में 1146 किलोमीटर लंबाई में अमान परिवर्तन का काम किया जा रहा है. इनमें से 589 किलोमीटर पर काम पूरा कर लिया गया है. 11,080 करोड़ रुपए की लागत में वाली इन परियोजनाओं पर मार्च 2020 तक 5048 करोड़ रुपए खर्च किए गए.

मंत्री ने बताया कि प्रदेश में 18 रेल लाइनों के दोहरीकरण का काम किया जा रहा है. जिनमें से 375 किलोमीटर पर काम पूरा हो चुका है. मार्च 2020 तक 33,613 करोड़ रु पए की कुल लागत में से इन परियोजनाओं पर 8,652 करोड़ रु पए खर्च किए जा चुके थे.

इन परियोजनाओं में नई अहमदनगर-बीड-पाली-वैजनाथ के बीच 261.25 किलोमीटर नई लाइन तथा बालाघाट-कंटगी सदहत जबलपुर-गोंदिया में 300 किलोमीटर अमान परिवर्तन के काम को 25 वर्ष पहले 1996-97 में स्वीकृत किया गया था.

महाराष्ट्र में चालू रेल परियोजनाएं

परियोजनालंबाईस्वीकृति वर्ष
अहमदनगर-बीड-पाली-वैजनाथ261.25 किमी1995-96
बारामती-लोनाड63.65 किमी1998-99
वर्धा-नांदेड वाया यावातलम-पुसाड284 किमी2008-09
बालाघाट-कंटगी सदहत जबलपुर-गोंददया300 किमी1996-97
छिंदवाड़ा-नागपुर150 किमी2005-06
रतलाम-महौ-खंडवा-अकोला और फतेहाबाद-चंद्रावती गंज-उज्जैन का एमएम495.56 किमी2008-09
दौंड-गुलबर्गा दोहरीकरण225 किमी2009-10
पुणे-गुंतकल ववद्युतीकरण641.37 किमी2009-10
गोधनी-कालमना कॉर्ड13.72010-11
Web Title: Rail projects of Maharashtra accelerated, budget increased upto 345 percent
महाराष्ट्र से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे