Maharashtra: after ban also HTBT cotton being sold, 40 FIR in 12 districts this year | महाराष्ट्र: धड़ल्ले से बिक रहे प्रतिबंधित एचटीबीटी कपास के बीज, राज्य के 12 जिलों में इसी साल दर्ज हुई 40 एफआईआर
हर्बीसाइट टॉलरेंट बीटी कपास बीजों की बिक्री का गोरखधंधा (फाइल फोटो)

Highlightsप्रतिबंध के बावजूद जारी है हर्बीसाइट टॉलरेंट बीटी कपास बीजों की बिक्री का गोरखधंधामहाराष्ट्र के विदर्भ के जिलों से भारी मात्रा में बीज जब्त, तेलंगाना से लाए जा रहे हैं बीज 

देशभर में प्रतिबंध के बावजूद हर्बीसाइट टॉलरेंट बीटी (एचटीबीटी) कपास बीजों की बिक्री का गोरखधंधा महारष्ट्र सहित कई प्रदेशों में धड़ल्ले से चल रहा है. केंद्र सरकार ने माना कि इन प्रदेशों में गैरकानूनी एचटीबीटी कपास बीजों की बिक्री के कई मामले सामने आए हैं.

इनमें सबसे अधिक बीज महामराष्ट्र में पकड़े गए हैं. मंत्री ने लोकसभा में माना कि महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि गुजरात में भी वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान चार जनपदों में कपास की अवैध फसल की बिक्री के पांच मामले सामने आए थे. इनमें भी सभी आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

विदर्भ के जिलों से भारी मात्रा में बीज जब्त 

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के अनुसार चालू वित्त वर्ष 2020-21 में ही महाराष्ट्र में विदर्भ के यवतमाल, अमरावती, नागपुर, वर्धा, चंद्रपुर, गढ़चिरोली, बुलढाणा के अलावा नंदूरबार, जलगांव, धुलेे, बीड़ और जालना जनपदों में कुल 12,148 पैकेट बंद तथा लगभग 115 लाख रु पए मूल्य के 1293 किलोग्राम बीज जब्त किए जा चुके हैं. अवैध कपास बीजों के मामले में दोषियों के खिलाफ 40 प्राथमिकियां भी दर्ज की गई हैं.

तेलंगाना से लाए जा रहे हैं बीज 

एक सवाल के लिखित जवाब में मंत्री ने बताया कि तेलंगाना के सीमावर्ती अदिलाबाद, मंचेरियाल और आसिफाबाद जैसे जनपदों से ऐसे बीज लाए जाने की सूचना मिली है. पुलिस ऐसे मामलों में लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर रही है.

तोमर के अनुसार ऐसे अवैध कपास बीजों की बिक्री के मामलों पर एक अंतरमंत्रालयी निरीक्षण तथा वैज्ञानिक समिति बनाई गई थी. इस समिति ने तत्काल, अल्पकालिक तथा मध्यकालिक कार्रवाई का सुझाव दिया. इसके अतिरिक्त कपास उगाने वाले राज्यों को इस बारे में निर्देश भी जारी किए गए हैं.

प्रतिबंधित रसायन, कीटनाशक की बिक्री नहीं

मंत्री ने हालांकि महाराष्ट्र सहित अन्य राज्यों में अवैध रसायन तथा कीटनाशकों की बिक्री से साफ इनकार किया. प्रतिबंधित रसायनों तथा कीटनाशकों की बिक्री के सवाल पर भी कृषि मंत्री ने जवाब दिया। 

उन्होंने आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, उत्तराखंड, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, केरल, ओडिशा, गोवा, मेघालय तथा मजोरम की राज्य सरकारों के हवाले से बताया कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है. मंत्री ने यह भी बताया कि महाराष्ट्र, गुजरात तथा तेलंगाना में अवैध रसायनों की बिक्री की घटना नहीं हुई है.

Web Title: Maharashtra: after ban also HTBT cotton being sold, 40 FIR in 12 districts this year
महाराष्ट्र से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे