winw shop open in Rajasthan after about one and a half months during lockdown | लॉकडाउन 3.0ः राजस्थान में लगभग डेढ़ महीने बाद खुले ठेके, बाहर लोग कतार में खड़े दिखे
कुछ ने तो हाथ में प्लास्टिक के कट्टे भी ले रखे थे और वे अपनी अपनी पसंद की शराब उनमें ले जाते दिखे। (Photo-social media)

Highlightsराजस्थान में ठेके यानी शराब की दुकानें लगभग डेढ़ महीने बाद सोमवार को खुली तो उनके बाहर लोगों की लंबी कतारें देखने को मिली।कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए राज्य सरकार ने 22 मार्च को पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की थी।

जयपुर:राजस्थान में ठेके यानी शराब की दुकानें लगभग डेढ़ महीने बाद सोमवार को खुली तो उनके बाहर लोगों की लंबी कतारें देखने को मिली। कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने के लिए राज्य सरकार ने 22 मार्च को पहली बार लॉकडाउन की घोषणा की थी और तभी से ये दुकानें बंद थीं। लॉकडाउन 3.0 के तहत दी गई ढील के तहत सोमवार को ये दुकानें एक बार फिर खुलीं तो उनके बाहर लोग कतार में खड़े दिखे।

इनमें से ज्यादातर के हाथ में थैले थे। कुछ ने तो हाथ में प्लास्टिक के कट्टे भी ले रखे थे और वे अपनी अपनी पसंद की शराब उनमें ले जाते दिखे। गुर्जर की थड़ी के पास शराब की एक दुकान पर अपनी बारी का इंतजार कर रहे एक ग्राहक श्याम सुंदर शर्मा ने कहा, ‘‘क्या करें साहब, बड़े इंतजार के बाद ये दिन आया है।’’ वह अपने दोस्त भारत के साथ आया था। भारत ने कहा, ‘‘हम दोनों शराब की दुकानें खुलने का उत्सुकता के साथ इंतजार कर रहे थे। दोनों दुकान से जितनी संभव हो उतनी शराब की बोतल अपने साथ ले जाने के लिये बैग लेकर आये थे।

’’ एक अन्य ग्राहक कुमावत ने बताया कि वह भी लंबे इंतजार के बाद शराब की दुकानें फिर से खुलने पर खुश है। दुपहिया वाहनों पर बिना बैग के आये कुछ ग्राहक शराब की बोतलों को ले जाने में कठिनाई का सामना करते दिखे। एक ग्राहक ने बताया कि उसने बीयर की छह बोतल खरीदी हैं और उसे कपड़े में लपेट कर सुरक्षित तरीके से लेकर जा रहा है।

कुछ दुकानों के बाहर खड़े ग्राहक एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम की पालना करते दिखाई दिये। ये ग्राहक दुकान के बाहर सड़क पर बनाये गये गोले में खड़े थे लेकिन इस तरह के नियम का पालन हर जगह दिखाई नहीं दिया। शराब की दुकानों के बाहर भीड़ जमा नहीं हो यह सुनिश्चित करने के लिये पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई थी, लेकिन अधिकतर दुकानों के बाहर भीड़ दिखी।

न्यू सांगानेर रोड पर एक शराब की दुकान के बाहर सड़क पर कतार में खड़े 50 से अधिक लोग एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पालना नहीं कर रहे थे और दुकान के काउंटर पर भी भीड़ जमा थी। एक पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के नेतृत्व में पुलिस दल दुकान पर पहुंचा और शराब की दुकान का शटर गिरा दिया गया। लोगों को भगाया गया और शराब की बिक्री रोक दी गयी और बिक्री तब तक शुरू नहीं की गई जब तक कि ग्राहकों ने एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पालन नहीं किया।

सरकारी आदेशानुसार शराब की दुकानों पर एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पालन सुनिश्चित करना होगा और दुकान पर एक बार में पांच से अधिक लोग मौजूद नहीं होंगे। कुछ ग्राहक शराब की कीमतों में दस प्रतिशत की वृद्धि के कारण निराश दिखे। सरकार ने हाल ही में शराब पर आबकारी शुल्क में 10 प्रतिशत की वृद्धि की थी। एक ग्राहक पंकज ने बताया कि सरकार ने शराब की कीमतों में वृद्धि की है जो अभी ठीक नहीं है। लेकिन, हम इसे खरीदने के अलावा और क्या कर सकते हैं। 

Web Title: winw shop open in Rajasthan after about one and a half months during lockdown
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे