WHO praises efforts to contain COVID-19 in Dharavi mumbai | WHO ने मुंबई के धारावी मॉडल का दुनिया के सामने दिया उदाहरण, बताया किस वजह से लगा वहां 'कोरोना पर ब्रेक'
धारावी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Highlightsकोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए WHO ने सामुदायिक भागीदारी और सामूहिक एकजुटता पर जोर दिया है। भारत में COVID-19 मामलों की कुल संख्या 7,93,802 हो गई है और 21,604 लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो गई है।

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने मुंबई के सबसे बड़े स्लम एरिया धारावी में कोरोना वायरस (Covid-19) केसों में आई कमी की तारीफ की है। डब्ल्यूएचओ की ओर से कहा गया है कि कोरोना वायरस को रोकने के लिए धारावी में जो प्रयास किए गए हैं, आज उसी के बदौलत वह इलाका कोरोना मुक्त होने वाला है। डब्ल्यूएचओ ने कहा राष्ट्रीय एकता और वैश्विक एकजुटता के साथ इस वैश्विक महामारी को रोका जा सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस एडहानोम गेब्रेयेसस ने कहा, पूरे विश्व भर में कई उदाहरण हैं, जिन्होंने बताया है कि  भले ही प्रकोप कितना भी ज्यादा हो, फिर भी इसे नियंत्रण में लाया जा सकता है। इन उदाहरणों में से कुछ इटली, स्पेन और दक्षिण कोरिया, और यहां तक कि धारावी में भी हैं।'

कोरोना महामारी को खत्म करने के लिए इन बातों पर दिया गया जोर

संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्य प्रमुख ने कहा, मुंबई के इस स्लम एरिया में टेस्टिंग, ट्रेसिंग, सोशल डिस्टेंसिंग और संक्रमित मरीजों का फौरन इलाज ही, इस इलाके की कोरोना पर जीत की वजह है। डब्ल्यूएचओ महानिदेशक ने इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए सामुदायिक भागीदारी और सामूहिक एकजुटता पर बल दिया है। 

डब्ल्यूएचओ ने कहा, ऐसे देश जो तेजी से विकास की ओर बढ़ रहे हैं, जहां प्रतिबंधों को ढीला कर रहे हैं और अब मामले बढ़ने लगे हैं। हमें नेतृत्व, सामुदायिक भागीदारी और सामूहिक एकजुटता की जरूरत है।

धारावी में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 2,359 हुई, 24 घंटे में सिर्फ 12 नए केस

मुंबई की सबसे बड़ी स्लम बस्ती धारावी में शुक्रवार (10 जुलाई) को कोविड-19 के 12 नए मामले आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,359 हो गई है। यह जानकारी बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने दी। नगर निकाय ने हालांकि पिछले कुछ दिनों से इस क्षेत्र में कोविड-19 संबंधी मौतों की जानकारी देनी बंद कर दी है।

धारावी (प्रतीकात्मक तस्वीर)
धारावी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अधिकारी ने कहा कि धारावी में इस समय 166 मरीजों का उपचार चल रहा है और 1,952 मरीजों को अब तक अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है। उन्होंने कहा कि धारावी से अधिक मामले बीएमसी के जी-उत्तर प्रशासनिक वार्ड के दादर और माहिम क्षेत्रों से सामने आ रहे हैं। धारावी भी इसी वार्ड का हिस्सा है।

अधिकारी ने बताया कि दादर और माहिम में पिछले 24 घंटे में क्रमश: 35 और 23 नए मामले सामने आए। एशिया की सबसे बड़ी मलिन बस्ती धारावी 2.5 वर्ग किलोमीटर में फैली है जहां छोटे-छोटे घरों में लगभग 6.5 लाख लोग रहते हैं। 

Web Title: WHO praises efforts to contain COVID-19 in Dharavi mumbai
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे