पश्चिम बंगाल: रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी टीएमसी में शामिल, अब तक बीजेपी के 5 एमएलए सीएम ममता के साथ

By सतीश कुमार सिंह | Published: October 27, 2021 03:59 PM2021-10-27T15:59:37+5:302021-10-27T17:59:42+5:30

कोलकाताः भाजपा के कृष्णनगर उत्तर सीट से विधायक मुकुल राय, बिष्णुपुर सीट से विधायक तन्मय घोष, बगदाह सीट से विधायक विश्वजीत दास, कालियागंज सीट से विधायक सौमेन राय तृणमूल में शामिल हो चुके हैं।

West Bengal BJP MLA Krishna Kalyani joins Trinamool Congress Partha Chatterjee 5 mla cm mamata | पश्चिम बंगाल: रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी टीएमसी में शामिल, अब तक बीजेपी के 5 एमएलए सीएम ममता के साथ

रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए।

Next
Highlightsपूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो भाजपा छोड़ टीएमसी में शामिल हो गए थे।5 विधायक टीएससी के साथ जुड़ गए हैं।

कोलकाता: रायगंज से भाजपा विधायक कृष्ण कल्याणी तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए। इस महीने की शुरुआत में पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। राज्य मंत्री पार्थ चटर्जी की उपस्थिति में तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए।

उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज से विधायक हैं। भाजपा के नाराज चल रहे थे। विधानसभा चुनाव के समय भाजपा विधायकों की संख्या 77 थी, जो अब घटकर 70 हो गई है। जिसमें 5 विधायक टीएससी के साथ जुड़ गए हैं। भाजपा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो शनिवार को कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल हो गए थे।

कल्याणी इस साल के शुरू में हुए विधानसभा चुनाव जीतने के बाद पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने वाले पांचवे भाजपा विधायक हैं। इसे विपक्षी भाजपा के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। वह तृणमूल कांग्रेस के उत्तरी दिनाजपुर जिले के पूर्व अध्यक्ष हैं। वह विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में आ गये थे और उन्हें रायगंज निवार्चन क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया गया था। पिछले कुछ समय से उनका उत्तरी दिनाजपुर जिले में पार्टी के मामलों को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री देबाश्री चौधरी से मतभेद चल रहे थे।

कल्याणी का यहां तृणमूल कांग्रेस के मुख्यालय में पार्टी महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ मंत्री पार्थ चटर्जी ने स्वागत किया। इस मौके पर कल्याणी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ आत्मसम्मान वाला कोई भी व्यक्ति भाजपा में स्वतंत्र रूप से काम नहीं कर सकता। ’’ उन्होंने कहा कि वह केंद्र की ‘जनविरोधी नीतियों’ से परेशान भी थे जिसने ईंधन के बढ़ते दामों पर रोक लगाने के लिए एक भी कदम नहीं उठाया।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं लगातार सोच रहा था कि मैं अब भाजपा का हिस्सा नहीं रह सकता। यदि मैंने विधानसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी की कल्याणकारी नीतियों के पक्ष में नहीं बोला तो वह मेरी गलती थी जिसे मैं अब सुधारना चाहता हूं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ यदि कोई विधायक के तौर पर अच्छा काम करना चाहता है तो भाजपा में उसे ऐसा करने नहीं दिया जाता है।’’

कल्याणी के बयान पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा कि कल्याणी को स्पष्ट करना चाहिए कि ममता बनर्जी की नीतियों को लेकर उनकी नींद अचानक कैसे खुली। उन्होंने कहा कि अपने निजी हित की पूर्ति के लिए कल्याणी तृणमूल में शामिल हो गये और भविष्य में रायगंज के लोग उन्हें इसका करारा जवाब देंगे।

कल्याणी ने इस माह के शुरू में भाजपा छोड़ दी थी लेकिन उन्होंने भाजपा विधायक के रूप में इस्तीफा नहीं दिया। उनसे पहले, भाजपा के कृष्णनगर उत्तर सीट से विधायक मुकुल राय, बिष्णुपुर सीट से विधायक तन्मय घोष, बगदाह सीट से विधायक विश्वजीत दास, कालियागंज सीट से विधायक सौमेन राय तृणमूल में शामिल हो चुके हैं। आसनसोल लोकसभा सीट से सांसद बाबुल सुप्रियो भी तृणमूल कांग्रेस में आ चुके हैं।

Web Title: West Bengal BJP MLA Krishna Kalyani joins Trinamool Congress Partha Chatterjee 5 mla cm mamata

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे