उत्तराखंड में खतरे के निशान तक पहुंचा गंगा का जलस्तर, भारी बारिश से यमुना सहित कई नदियां उफान पर

By अभिषेक पारीक | Published: June 20, 2021 04:49 PM2021-06-20T16:49:33+5:302021-06-20T17:03:47+5:30

उत्तराखंड में पिछले तीन दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश के कारण गंगा-यमुना सहित सभी छोटी बड़ी नदियां उफान पर हैं।

uttarakhand many rivers including ganga and yamuna are in spate due to rain | उत्तराखंड में खतरे के निशान तक पहुंचा गंगा का जलस्तर, भारी बारिश से यमुना सहित कई नदियां उफान पर

फाइल फोटो

Next
Highlightsउत्तराखंड में बारिश के कारण कई बड़ी नदियां उफान पर हैं। कई स्थानों पर भूस्खलन से करीब एक दर्जन मकानों को नुकसान पहुंचा है। गंगा और यमुना जैसी बड़ी नदियां खतरे के निशान के पास बह रही हैं। 

देहरादूनः उत्तराखंड में पिछले तीन दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश के कारण गंगा-यमुना सहित सभी छोटी बड़ी नदियां उफान पर हैं। इससे जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। उफनती नदियों के कारण कई जगह सड़क मार्ग क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जिससे उन पर आवाजाही बंद हो गई है। इसके अलावा, नैनीताल, अल्मोड़ा और अन्य पहाड़ी क्षेत्रों में पहाड़ों से भूस्खलन होने से दर्जन भर मकानों को नुकसान भी पहुंचा है। 

राज्य आपदा प्रबंधन केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार, गंगा और सहायक नदियां जैसे अलकनंदा, पिंडर, मंदाकिनी, नंदाकिनी, सरयू और काली, खतरे के निशान के आसपास बह रही हैं और उनके किनारे बसे गांवों के निवासियों से सतर्कता बरतने तथा सुरक्षित स्थानों पर जाने के लिए कहा गया है। 

खतरे के निशान के करीब कई नदियां

ऋषिकेश में गंगा का जलस्तर सुबह खतरे के निशान तक पहुंच गया। देहरादून के समीप डाकपत्थर में यमुना नदी भी खतरे के निशान के करीब बह रही थी। पिछले 24 घंटों में हरिद्वार में 89 मिमी, कर्णप्रयाग में 66 मिमी, गैरसैंण में 56 मिमी, अल्मोड़ा और रानीखेत में 50-50 मिमी, टिहरी में 28 मिमी तथा देवप्रयाग में 47.50 मिमी वर्षा रिकॉर्ड की गई है। 

कई स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में प्रदेश के अनेक स्थानों पर भारी वर्षा की चेतावनी दी है। ऋषिकेश-केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग कालीमठ गेट के पास और ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग लामबगड के पास भूस्खलन से अवरूद्ध हैं, जिन्हें खोलने का प्रयास किया जा रहा है। इसके अलावा, प्रदेश भर में जगह-जगह दर्जनों मार्ग पहाड़ों से मलबा आने से बंद हो गए हैं। जिनके कारण सामान्य जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। 

Web Title: uttarakhand many rivers including ganga and yamuna are in spate due to rain

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे