अजब पुलिस का गजब तमाशा! पथराव से बचने के लिए पुलिसकर्मियों ने पहन ली स्टूल और टोकरी, किरकिरी हुई तो लिया एक्शन

By अभिषेक पारीक | Published: June 17, 2021 07:59 PM2021-06-17T19:59:19+5:302021-06-17T20:15:49+5:30

उत्तर प्रदेश के उन्नाव से पुलिसकर्मी की एक तस्वीर सामने आई है। जिसे लेकर पुलिस का खूब मजाक बन रहा है। पुलिसकर्मी पथराव से बचने के लिए सिर पर स्टूल और टोकरी रखे नजर आ रहे हैं।

Uttar Pradesh police use stool and basket to control riot four suspended | अजब पुलिस का गजब तमाशा! पथराव से बचने के लिए पुलिसकर्मियों ने पहन ली स्टूल और टोकरी, किरकिरी हुई तो लिया एक्शन

पथराव से बचने के लिए पुलिसकर्मियों के पास स्टूल और टोकरी का सहारा।

Next
Highlightsस्टूल और टोकरी पहने पुलिसकर्मियों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। उन्नाव में पथराव से बचने के लिए पुलिसकर्मियों ने स्टूल और टोकरी का सहारा लिया था। इस मामले में एसएचओ सहित चार पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है। 

उत्तर प्रदेश के उन्नाव से पुलिसकर्मी की एक तस्वीर सामने आई है। जिसे लेकर पुलिस का खूब मजाक बन रहा है। पुलिसकर्मी पथराव से बचने के लिए सिर पर स्टूल और टोकरी रखे नजर आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर यह फोटो वायरल हो गई है, जिसके बाद इस मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

दरअसल, उन्नाव जिले में एक सड़क दुर्घटना में दो युवकों की मौत हो गई थी। जिसके बाद स्थानीय लोग नाराज हो गए और उन्होंने शव रोड पर रखकर जाम लगा दिया। जाम खुलवाने और लोगों को शांत करने के इरादे से मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों का भारी विरोध झेलना पड़ा। गुस्साए लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। पुलिसकर्मी बांस की टोकरी और प्लास्टिक की स्टूल के जरिये अपना बचाव करते दिखे। 

पुलिस अधिकारियों ने लिया एक्शन

इस घटना के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस का मजाक बनकर रह गया। आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह ने भी इस घटना को लेकर अपनी नाराजगी व्यक्त की है। साथ ही उन्होंने इसे स्थानीय पुलिस की शिथिलता, अक्षमता और गैर व्यावसायिक दक्षता वाला कृत्य माना है। जिसके बाद कोतवाल दिनेशचंद्र मिश्र, मगरवारा पुलिस चौकी प्रभारी अखिलेश यादव सहित चार को निलंबित कर दिया है। साथ ही क्षेत्राधिकारी नगर से भी इस मामले में स्पष्टीकरण मांगा गया है। 

शवों को रोड पर रखकर लगाया जाम

पुलिस के मुताबिक, कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत देवी खेड़ा गांव के लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। जिसके बाद पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया और उन्हें परिजनों को सुपुर्द कर दिया। हालांकि स्थानीय ग्रामीण और परिजनों ने शव को रोड पर रखकर जाम लगा दिया और प्रदर्शन किया। 

तीन घंटे तक चला बवाल

एसडीएम और सीओ ने समझाइश की कोशिश की, लेकिन लोगों ने पथराव कर दिया। जाब्ता होने के बावजूद पुलिस को स्टूल और टोकरी से खुद का बचाव करना पड़ा। यह बवाल करीब तीन घंटे तक चला। जिसमें एक दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं। 

43 लोगों को किया गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार हादसे में राजेश व विपिन की मौत हो गई थी। उनके परिजनों ने प्रशासन से 20-20 लाख रुपए का मुआवजा दिलाने और दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की थी। इस मामले में 43 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। 

Web Title: Uttar Pradesh police use stool and basket to control riot four suspended

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे