जांच एजेंसी उप्र एसआईटी का नाम बदल SSIT किया गया, जानें क्या है पूरा मामला

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: October 3, 2022 07:12 PM2022-10-03T19:12:20+5:302022-10-03T19:14:06+5:30

Uttar Pradesh: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्‍यक्ष एवं राज्य की पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती के नेतृत्व वाली तत्‍कालीन राज्य सरकार ने जून 2007 में विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) का गठन किया था।

Uttar Pradesh Investigation agency UP SIT has been renamed SSIT 2007 mayawati constituted Special Research Team in June 2007 | जांच एजेंसी उप्र एसआईटी का नाम बदल SSIT किया गया, जानें क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां जारी बयान में यह जानकारी दी।

Next
Highlightsउत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां जारी बयान में यह जानकारी दी।मुख्यालय लखनऊ में है और इसका कार्यक्षेत्र पूरा उत्तर प्रदेश है।एसआईटी का मुखिया पुलिस महानिदेशक (डीजी) स्तर के अधिकारी को बनाया जाता है।

लखनऊः उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य पुलिस के विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) का नाम बदलकर राज्‍य विशेष अनुसंधान दल, उत्तर प्रदेश करने का निर्णय लिया है। उत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां जारी बयान में यह जानकारी दी।

उन्‍होंने बताया कि भविष्य में विशेष अनुसंधान दल के स्थान पर राज्य विशेष अनुसंधान दल, उत्तर प्रदेश, लखनऊ नाम से पत्राचार किया जायेगा। गौरतलब है कि बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्‍यक्ष एवं राज्य की पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती के नेतृत्व वाली तत्‍कालीन राज्य सरकार ने जून 2007 में विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) का गठन किया था।

इस जांच एजेंसी का गठन प्रभावशाली व्यक्तियों और लोक सेवकों से संबंधित मामलों की प्रभावी जांच करने के इरादे से किया गया था। एसआईटी द्वारा जांच के परिणाम स्‍वरूप विभागीय कार्यवाही के लिए सिफारिश की जाती है। इसका मुख्यालय लखनऊ में है और इसका कार्यक्षेत्र पूरा उत्तर प्रदेश है।

एसआईटी का मुखिया पुलिस महानिदेशक (डीजी) स्तर के अधिकारी को बनाया जाता है। इस संगठन में डीजी के अलावा एक पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) और दो पुलिस अधीक्षकों (एसपी) के अलावा दो अपर पुलिस अधीक्षक और उपाधीक्षक भी तैनात हैं। 

Web Title: Uttar Pradesh Investigation agency UP SIT has been renamed SSIT 2007 mayawati constituted Special Research Team in June 2007

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे