मुरादाबादः कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान कुरैशी पर FIR, प्रियंका गांधी संग किया था डोर-टू-डोर कैंपेन, बीजेपी पर निकाला गुस्सा

By अनिल शर्मा | Published: February 11, 2022 09:34 AM2022-02-11T09:34:07+5:302022-02-11T09:54:33+5:30

मुरादाबाद के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अखिलेश भदौरिया ने मीडियाकर्मियों को बताया कि कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान ने घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति ली थी, लेकिन देखा गया कि उनके साथ कार में सवार लोगों के साथ रोड शो जैसी स्थिति बन गई थी।

UP polls Police say Congress' door-to-door campaign in Moradabad looked like roadshow case registered | मुरादाबादः कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान कुरैशी पर FIR, प्रियंका गांधी संग किया था डोर-टू-डोर कैंपेन, बीजेपी पर निकाला गुस्सा

मुरादाबादः कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान कुरैशी पर FIR, प्रियंका गांधी संग किया था डोर-टू-डोर कैंपेन, बीजेपी पर निकाला गुस्सा

Next
Highlightsरिजवान कुरैशी गुरुवार को प्रियंका गांधी के साथ शहर में डोर टू डोर कैंपेन किया थापुलिस का आरोप है कि रिजवान के कैंपेन में रोड शो जैसी स्थिति बन गई थीरिजवान कुरैशी ने कहा कि मेरठ में अमित शाह और डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने भी कैंपने किया फिर उनपर FIR क्यों नहीं हुई

मुरादाबाद : यूपी पुलिस द्वारा मुरादाबाद में कांग्रेस नेता रिजवान कुरैशी के घर-घर प्रचार अभियान के दौरान रोड शो जैसी स्थितिसामने आने के बाद मामला दर्ज किया गया है। कुरैशी मुरादाबाद से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं उन्होंने गुरुवार को पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ निर्वाचन क्षेत्र में घर-घर प्रचार किया। हालांकि, पुलिस के अनुसार, अभियान एक रोड शो की तरह लग रहा था।

मुरादाबाद के पुलिस अधीक्षक (एसपी) अखिलेश भदौरिया ने मीडियाकर्मियों को बताया कि कांग्रेस प्रत्याशी रिजवान ने घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति ली थी, लेकिन देखा गया कि उनके साथ कार में सवार लोगों के साथ रोड शो जैसी स्थिति बन गई थी। सेक्टर मजिस्ट्रेट की शिकायत के अनुसार, एक मामला दर्ज किया गया है।

वहीं अपने खिलाफ मामला दर्ज किए जाने को लेकर रिजवान ने बीजेपी पर काफी गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी डर गई है इसलिए वह ऐसी राजनीति कर रही है। शिकायत दर्ज किए जाने को लेकर कांग्रेस प्रत्याशी ने कहा कि यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कुछ दिन पहले डोर-डू-डोर मीटिंग की थी। मेरठ में अमित शाह ने घर-घर जाकर किया अभियान, उनके खिलाफ एफआईआर क्यों नहीं? डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान अगर लोग बिना शर्त प्यार से हमारा स्वागत करते हैं तो इसमें हमारी कोई गलती नहीं है। डर गई बीजेपी, इसलिए है ये राजनीति।

 

Web Title: UP polls Police say Congress' door-to-door campaign in Moradabad looked like roadshow case registered

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे