यूपी सरकार दे रही है किसानों को प्रति बोरिंग अधिकतम 6 हजार रुपए का लाभ, अभी तक नहीं उठाया है 'फ्री बोरिंग योजना' का फायदा तो आज ही ऐसे करें अप्लाई

By आजाद खान | Published: June 23, 2022 03:39 PM2022-06-23T15:39:48+5:302022-06-23T15:51:45+5:30

UP Free Boring Scheme: आपको बता दें कि इस योजना के तहत सरकार किसानों को कम से कम तीन हजार और ज्यादा से ज्यादा छह हजार रुपए देने की बात कह रही है।

UP Free Boring Scheme for farmers rs 6000 max for every boring know how to apply online https://scheme.jjmup.org | यूपी सरकार दे रही है किसानों को प्रति बोरिंग अधिकतम 6 हजार रुपए का लाभ, अभी तक नहीं उठाया है 'फ्री बोरिंग योजना' का फायदा तो आज ही ऐसे करें अप्लाई

यूपी सरकार दे रही है किसानों को प्रति बोरिंग अधिकतम 6 हजार रुपए का लाभ, अभी तक नहीं उठाया है 'फ्री बोरिंग योजना' का फायदा तो आज ही ऐसे करें अप्लाई

Next
Highlightsउत्तर प्रदेश सरकार एक नई योजना की शुरुआत की है। इस योजना में किसानों को खेत की सिचाई के लिए बोरिंग की सुविधा दी जा रही है।इसके लिए राज्य सरकार अधिकतम छह हजार रूपए प्रति बोरिंग की राशि देने की बात कह रही है।

UP Free Boring Scheme: किसानों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार एक नई योजना लाई है जिससे ज्यादा से ज्यादा किसानों को इससे फायदा मिल सकता है। जिस तरीके से केन्द्र सरकार किसानों के लिए कई योजनाओं पर पहले से ही काम कर रही है, उसी तरीके से यूपी सरकार भी इस योजना के तहत छोटे किसानों के खेत की सिचाई के लिए बोरिंग की सुविधा देने जा रही है। इस सुविधा से उन छोटे किसानों को डायरेक्ट फायदा मिलेगा जो किसी कारण अपनी खेती के लिए सही से पानी नहीं दे पाते है। 

ऐसे में आइए जानते है इस योजना से जुड़े लाभ, पात्रता (जरूरी दस्तावेज) और आवेदन प्रक्रिया के बारे में। इसके बारे में नीचे जानकारी दी गई है। 

UP Free Boring Scheme: योजना से जुड़े सभी लाभ क्या है

इस योजना से जुड़े कई लाभ है। इन सभी लाभों को नीचे बताया गया है। किसानों से यह अपील है कि इस योजना में अप्लाई करने से पहले इसके लाभ और आवेदन की प्रक्रिया को सही से समझ लें। 

--इसके तहत सामान्य श्रेणी के किसानों को अधिकतम तीन हजार रूपए प्रति बोरिंग की राशि मिलेगी। 
--वहीं इगर सामान्य श्रेणी के सीमांत किसानों की बात करें तो इन्हें अधिकतम चार हजार रूपए प्रति बोरिंग मिलने की बात है। 
--और अन्त में अनुसूचित जाति और जनजाति के किसानों को अधिकतम छह हजार रूपए प्रति बोरिंग सरकार द्वारा दिया जाएगा। 

UP Free Boring Scheme: योजना में अप्लाई करने के लिए कौन-कौन से लगेंगे दस्तावेज

वैसे तो आम तौर पर इस्तेमाल होने वाले दस्तावेज ही किसी भी योजना में लगती है, इस योजना में भी ऐसे ही दस्तावेज लगेंगे। इन दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई है जिसे एक आवेदक को अप्लाई करते समय जमा देना होगा। 

आय प्रमाण पत्र
आयु का प्रमाण
राशन कार्ड
पासपोर्ट साइज फोटो
मोबाइल नंबर
आधार कार्ड
निवास प्रमाण पत्र

UP Free Boring Scheme: ऐसे करे इस योजना के लिए आवेदन 

इस योजना में अप्लाइ करना बहुत ही आसान है। इसके लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें और इस प्रकार अपना आवेदन भरें। 

स्टेप 1. इसके लिए सबसे पहले आप https://scheme.jjmup.org/mi/index.php के वेबसाइट जाएं। 
स्टेप 2. फिर इसके बाद यहां मौजूद योजना के विकल्प पर क्लिक कर और फिर आवेदन पत्र के विकल्प का चयन करें। 
स्टेप 3. इसके बाद आप यहां से आवेदन की प्रिंट निकाल लें। 
स्टेप 4. आवेदन से निकाली गई प्रिंटआउट पर अब आप आवेदन में मांगी गई सभी जानकारी 
                         जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, पता और अन्य को भरें। 
स्टेप 5. फिर इसके बाद आप मांगे गए दस्तावेजों को अटैच कर दें। 
स्टेप 6. इसके बाद इस फॉर्म को अब आप अपने जिले के लघु सिंचाई विभाग में जमा करे दें। 
 

Web Title: UP Free Boring Scheme for farmers rs 6000 max for every boring know how to apply online https://scheme.jjmup.org

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे