UP Election 2022: दो फरवरी को आगरा में पहली चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगी बसपा प्रमुख मायावती, सतीश चंद्र मिश्रा ने ट्वीट कर कहा

By लोकमत न्यूज़ डेस्क | Published: January 25, 2022 05:56 PM2022-01-25T17:56:43+5:302022-01-25T19:29:48+5:30

UP Election 2022: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समेत अपने प्रतिद्वंदी दलों पर राजनीति के अपराधीकरण के जरिए उत्तर प्रदेश को जंगलराज में धकेलने का आरोप लगाया।

UP Election 2022 February 2 BSP chief Mayawati address first election rally Agra Satish Chandra Mishra tweeted  | UP Election 2022: दो फरवरी को आगरा में पहली चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगी बसपा प्रमुख मायावती, सतीश चंद्र मिश्रा ने ट्वीट कर कहा

आगरा में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए एक जनसभा को संबोधित करेंगी।

Next
Highlights माफियाओं को संरक्षण के जरिए उत्तर प्रदेश को जंगलराज में धकेल दिया है।जनता को त्रस्त करने के लिए जिम्मेदार हैं लेकिन इन दलों की जुमलेबाजी जारी है।सभी प्रतिद्वंदी दल उत्तर प्रदेश को गरीब और पिछड़ा बनाए रखा।

UP Election 2022: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती दो फरवरी को आगरा में एक जनसभा कर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के प्रचार अभियान की औपचारिक शुरुआत करेंगी। पार्टी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने एक ट्वीट में कहा कि बसपा अध्यक्ष दो फरवरी को आगरा में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करते हुए एक जनसभा को संबोधित करेंगी।

मिश्रा ने ट्विटर पर लिखा, ''अवगत कराना हैं कि दो फरवरी को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती आगरा में कोविड नियमों का पालन करते हुए जनसभा को संबोधित करेंगी । जनसभा का समय एवं स्थान तथा आगामी जनसभाओं की सूचना मीडिया बंधुओ को शीघ्र उपलब्ध कराई जाएगी ।''

उल्लेखनीय है कि चुनाव के दौरान जनता के बीच बसपा सुप्रीमो की लगभग अनुपस्थिति पर भी उनके राजनीतिक विरोधियों द्वारा सवाल उठाए जा रहे थे। बसपा सूत्रों के अनुसार वह लगातार अपने आवास पर पार्टी के नेताओं और पदाधिकारियों और राज्य भर के बूथों के प्रभारियों से मिल रही हैं, लेकिन चुनाव आयोग द्वारा रैलियों पर प्रतिबंध लगाये जाने से पहले, कोरोनो वायरस संक्रमण की बढ़ती संख्या का हवाला देते हुए उन्होंने किसी भी जनसभा को संबोधित नहीं किया।

मायावती ने पिछली बार अक्टूबर में लखनऊ में और इससे पहले सितंबर में राज्य में अपनी पार्टी के 'प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलनों' की समाप्त पर एक जनसभा को संबोधित किया था। बसपा ने 2017 के विधानसभा चुनावों में 19 सीटें जीती थीं, लेकिन उसके कम से कम एक दर्जन बसपा विधायकों ने या तो अपनी निष्ठा बदल ली या उन्हें पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में निष्कासित कर दिया गया। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर और बसपा विधायक दल के नेता लालजी वर्मा जैसे वरिष्ठ नेता, कभी मायावती के करीबी विश्वासपात्र थे, वे अब अन्य दलों में चले गये हैं। 

Web Title: UP Election 2022 February 2 BSP chief Mayawati address first election rally Agra Satish Chandra Mishra tweeted 

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे