Union Minister & BJP leader Prakash Javadekar reply on Congress president Sonia Gandhi's statement on delhi violence | सोनिया गांधी के बयान पर जावड़ेकर का पलटवार, कहा- हिंसा के समय सरकार पर दोष लगाने के बजाय शांति की अपील करनी चाहिए  
प्रकाश जावड़ेकर (फाइल फोटो)

Highlightsप्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इस हिंसा की आलोचना में सरकार को दोष देना गलत है।  सोनिया गांधी ने दिल्ली में भड़की हिंसा को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरते हुए अमित शाह से इस्तीफा मांगा था।

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि उनका यह बयान दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है। ऐसे समय में सभी दलों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि शांति बनाए रखी जाए, इसके बजाय सरकार को दोषी ठहराया जाना गंदी राजनीति है। इस हिंसा की आलोचना में सरकार को दोष देना गलत है।  

इसके साथ ही जावड़ेकर ने कहा कि प्रेस वार्ता के दौरान सोनिया जी पूछ रही थीं कि अमित शाह हिंसा के समय कहां हैं। लेकिन, मैं  उन्हें बताना चाहूंगा कि गृह मंत्री ने कल सर्वदलीय बैठक की, जहां कांग्रेस नेता भी मौजूद थे। इस बैठक के बाद ही गृह मंत्रालय ने पुलिस को दिशा-निर्देश दिए और पुलिस का मनोबल भी बढ़ाया। कांग्रेस के बयानों से पुलिस के मनोबल पर विपरीत असर पड़ता है।

जानें दिल्ली में फैली हिंसा पर सोनिया गांधी ने क्या कहा -

 

कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा को लेकर बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि उन्हें तत्काल इस्तीफा देना चाहिए।

पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में पारित प्रस्ताव पढ़ते हुए सोनिया ने कहा, ''दिल्ली में हो रही हिंसा और जानमाल नुकसान के बाद स्थिति पर चर्चा के लिए बैठक हुई। यह एक सोचा-समझा षड्यंत्र है। भाजपा के कई नेताओं ने भड़काऊ बयान देकर नफरत और भय का माहौल पैदा किया।''

उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्य समिति उन सभी परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करती है जिन्होंने हिंसा में अपने प्रियजनों को खो दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सीडब्ल्यूसी लोगों से घृणा की राजनीति को अस्वीकार करने और दरारें भरने के लिए बेहतर कदम उठाने की अपील करती है।

सोनिया ने कहा कि मौजूदा स्थिति के लिए केंद्र सरकार और खासकर गृह मंत्री जिम्मेदार हैं तथा उन्हें तत्काल इस्तीफा देने चाहिए। उन्होंने यह दावा भी किया कि दिल्ली सरकार भी अपनी भूमिका निभाने में विफल रही। कांग्रेस प्रमुख ने कहा ‘‘दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री भी शांति बनाए रखने में नाकाम रहे।

सीडब्ल्यूसी का मानना है कि स्थिति गंभीर है और तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है ।’’ सोनिया ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री को प्रभावित इलाकों में जाना चाहिए और लोगों के साथ लगातार संवाद करना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त बल तैनात किया जाना चाहिए तथा मोहल्लों में शांति समितियों का गठन किया जाना चाहिए । इस संवाददाता सम्मेलन में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे। 

दिल्ली में हिंसा के दौरान पुलिस कर्मी ने साझा किए नंबर, हिंसा के दौरान मदद के लिए करें कॉल-
दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर पूर्वी हिस्से में हुई सांप्रदायिक हिंसा में घायल लोगों के बारे जानकारी हासिल करने के इच्छुक लोगों के लिए कुछ पुलिस कर्मियों के संपर्क नंबर साझा किए हैं । हिंसा में घायल लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। गुरू तेग बहादुर अस्पताल में भर्ती लोगों के बारे में जानकारी के लिए उप निरीक्षक गजेन्दर सिंह से 9818120026 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

अस्पताल में भर्ती लोगों की जानकारी के लिए इस नंबर पर कॉल करें-
लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल और मौलाना आजाद अस्पताल में भर्ती लोगों के बारे में जानकारी के लिए उप निरीक्षक योगेन्द्र सिंह से 7982756328 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। उप निरीक्षक देवेन्दर सिंह राममनोहर लोहिया अस्पताल में तैनात हैं और उनसे जानकारी लेने के लिए 9818313342 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

सहायक उप निरीक्षक नरेंद्र राणा से अल हिन्द अस्पताल में भर्ती लोगों के बारे में जानकारी लेने के लिए 9868738042 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

Web Title: Union Minister & BJP leader Prakash Javadekar reply on Congress president Sonia Gandhi's statement on delhi violence
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे