यूपी के दो मंत्री फरार, कोर्ट ने लटकाई गिरफ्तारी की तलवार, विपक्ष ले रहा है योगी सरकार पर चुटकी

By आशीष कुमार पाण्डेय | Published: August 7, 2022 08:39 PM2022-08-07T20:39:41+5:302022-08-07T20:45:23+5:30

योगी सरकार के दो मंत्रियों पर चले कोर्ट के डंडे को लेकर विपक्ष ने योगी सरकार पर किया हमला। सपा ने कहा कि मंत्री राकेश सचान कोर्ट द्वारा दोषी ठहराये जाने के बाद जिस तरह से फरार हुए हैं. वो तो प्रोफेशनल धावकों को पीछे छोड़ देंगे।

Two UP ministers absconding, the court hangs the sword of arrest, the opposition is taking a jibe at the Yogi government | यूपी के दो मंत्री फरार, कोर्ट ने लटकाई गिरफ्तारी की तलवार, विपक्ष ले रहा है योगी सरकार पर चुटकी

फाइल फोटो

Next
Highlightsयोगी सरकार के दो मंत्रियों पर गिरी कोर्ट की गाज दोनों मंत्री फरार,लखनऊ में विपक्षी दल सपा ने योगी सरकार पर बोला हमला सपा ने कहा कि मंत्री राकेश सचान जिस तरह से फरार हुए हैं, उस पर मुख्यमंत्री खुद बयान दें

लखनऊ: योगी आदित्यनाथ की सरकार में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री राकेश सचान के कानपुर की जिला अदालत द्वारा एक मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद कथित तौर पर फरार होने और उसके अगले दिन योगी सरकार के एक अन्य मंत्री और निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद को गोरखपुर कोर्ट द्वारा गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद विपक्ष हमलावर है।

विपक्ष आरोप लगा है कि अपराध के प्रति कथिततौर से जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मंत्रीमंडल स्वयं दागदारों से भरा पड़ा है। योगी सरकार के दोनों मंत्रियों पर कोर्ट के कसे शिकंजे का कारण मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी बैकफुट पर नजर आ रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक गोरखपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट जगन्नाथ द्वारा सात साल पहले दर्ज किये गये एक आपराधिक मामले में कई बार समन जारी होने के बाद मंत्री संजय निषाद कोर्ट के सामने पेश होने से बच रहे थे। कई बार की चेतावनी के बाग आखिरकार गोरखपुर की कोर्ट ने मंत्री संजय निषाद के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया है।

बताया जा रहा है कि संजय निषाद पर आरोप है कि उन्होंने साल 2015 में आरक्षण की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन किया था। उस समय रेलवे की पटरी पर बैठकर धरना दे रहे निषाद समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई थी। पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। जिसके बाद पुलिस ने निषाद पार्टी प्रमुख संजय निषाद सहित कुल 36 लोगों पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया था।

मामले में अब कोर्ट द्वारा गैर-जमानती वारंट जारी होने के बाद गिरफ्तारी के भय से भूमिगत हो गये मंत्री निषाद के विषय में यूपी भाजपा के नेता किसी भी तरह की टिप्पणी करने से बच रहे हैं। भाजपा नेताओं का यहां तक कहना है कि उन्हें मालूम ही नहीं की मंत्री संजय निषाद के खिलाफ गोरखपुर कोर्ट ने गैर-जमानती वारंट जारी किया है।

राज्य भाजपा के एक पदाधिकारी ने रविवार को कहा, "पार्टी के सामने अभी तक इस तरह की कोई रिपोर्ट नहीं आयी है। चूंकि संजय निषाद योगी सरकार में मंत्री हैं, इस लिहाज से वो कोर्ट का पूरा सम्मान करेंगे और अदालत के समक्ष पेश होकर अपना पक्ष रखेंगे।"

मालूम हो कि यूपी विधानसभा चुनाव 2002 में सुभासपा के ओपी राजभर के छिटकने के बाद भाजपा ने निषाद पार्टी को अपना सहयोगी बनाया था और संजय निषाद की पार्टी के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा था। चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद योगी आदित्यनाथ ने अपनी सरकार में संजय निषाद को जगह दी और कैबिनेट मंत्री बनाया।

वहीं अगर मंत्री राकेश सचान की बात करें तो कानपुर की कोर्ट ने उन्हें एक मामले में दोषी पाया, जिनमें वो शस्त्र अधिनियम के तहत आरोपी थे। मंत्री राकेश सचान कोर्ट द्वारा दोषी ठहराये जाने के बाद कोर्ट से फरार हो गये थे और उनका अभी तक कोई पता नहीं चल पा रहा है। यूपी पुलिस गिरफ्तारी के लिए अपने ही एक मंत्री को कोर्ट द्वारा दोषी ठहराये जाने के बाद तलाश कर रही है साथ ही संजय निषाद के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद से भाजपा मुश्किलों का सामना कर रही है।

योगी सरकार के दो मंत्री को कोर्ट में खड़ा देखकर सूबे की मुख्य विपक्षी पार्टी सपा जबदस्त हमलावर है। समाजवादी पार्टी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से दोनों मंत्रियों को बर्खास्त करने की मांग की है। सपा का कहना है कि मंत्री राकेश सचान कोर्ट द्वारा दोषी ठहराये जाने के बाद जिस तेजी से फरार हुए हैं तो ऐसा लग रहा है कि सच्चन एक धावक से भी तेज दौड़ सकते हैं। योगी सरकार मंत्री राकेश सचान और मंत्री संजय निषाद को फौरन मंत्रीमंडल से निकाले, यह लोकतांत्रिक परंपरा के खिलाफ है।

Web Title: Two UP ministers absconding, the court hangs the sword of arrest, the opposition is taking a jibe at the Yogi government

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे