Tractor Parade SHO who was injured in the Red Fort Violence asked Could Delhi Police do anything | आखिर क्यों हिंसा को रोकने के लिए कुछ नहीं कर पाई दिल्ली पुलिस, घायल हुए SHO ने बताई ये बड़ी वजह
वजीराबाद थाने के एसएचओ पीसी यादव। (फोटो सोर्स- ट्विटर)

Highlightsदिल्ली पुलिस किसानों के खिलाफ बल प्रयोग नहीं करना चाह रही थी।एसएचओ पीसी यादव ने बताया कि पुलिस किसानों को शांतिपूर्ण तरीके से बातचीत करना चाह रही थी। इस हिंसा के सिलसिले में 200 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

देशभर में 26 जनवरी के दिन किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा की खबरें चर्चा में है। इस हिंसा के दौरान कई पुलिसकर्मी के घायल होने की खबर भी है। हिंसा के दौरान गंभीर रूप से घायल हुए उत्तरी दिल्ली के वजीराबाद थाने के एसएचओ पीसी यादव ने बताया है कि आखिर क्यों पुलिस किसानों को रोकने में कामयाब नहीं हो सकी।

एसएचओ पीसी यादव इस समय अस्पताल में भर्ती हैं। हिंसा के दौरान वह बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्होंने अपने बयान में कहा कि हम लाल किले में तैनात थे जब कई लोग वहां घुस गए। हमने उन्हें लाल किले की प्राचीर से हटाने की कोशिश की, लेकिन वे आक्रामक हो गए। किसानों के खिलाफ हम किसी भी तरह का बल प्रयोग नहीं करना चाहते थे, हम उन्हें प्यार से समझाकर वहां से वापस भेजने की कोशिश कर रहे थे। 

दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान भड़की हिंसा के सिलसिले में 200 लोगों को हिरासत में लिया है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक, हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को हुई हिंसा के सिलसिले में और लोगों को हिरासत में लिया जा सकता है और पूछताछ की जा सकती है। 

गौरतलब है कि मंगलवार को दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा हो गई थी। प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिए थे, वे पुलिस से भिड़ गए थे, गाड़ियों को पलट दिया था और लाल किले पर धार्मिक झंडा लगा दिया था। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि दिल्ली ने हिंसा के संबंध में अब तक 22 प्राथमिकी दर्ज की हैं। हिंसा में 300 से ज्यादा पुलिस कर्मी जख्मी हुए हैं। 

Web Title: Tractor Parade SHO who was injured in the Red Fort Violence asked Could Delhi Police do anything

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे