बेंगलुरु में तीन दिवसीय कला प्रदर्शन, पेंटर आर्टिस्ट दीपिका की मशहूर पिचवई कला से बनी भगवान कृष्ण की पेंटिंग ने मोह लिया दर्शकों का मन

By अनुभा जैन | Published: November 20, 2022 09:27 AM2022-11-20T09:27:47+5:302022-11-20T09:27:47+5:30

दीपिका भंसाली जैन की इस सोलो आर्ट गैलरी में सकारात्मकता और आशा पर आधारित 50 से अधिक पेंटिंग प्रदर्शित की गई हैं। चित्रकार ने घोषणा की है कि कला की बिक्री की 25 प्रतिशत राशि अनाथ आश्रम में दान में दी जायेगी।

Three-day art exhibition in Bengaluru, painter artist Deepika's painting of Lord Krishna made of famous Pichwai art enthralled | बेंगलुरु में तीन दिवसीय कला प्रदर्शन, पेंटर आर्टिस्ट दीपिका की मशहूर पिचवई कला से बनी भगवान कृष्ण की पेंटिंग ने मोह लिया दर्शकों का मन

पेंटर आर्टिस्ट दीपिका की मशहूर पिचवई कला से बनी भगवान कृष्ण की पेंटिंग

Next

बेंगलुरु: चित्रकार दीपिका भंसाली जैन खुद को किसी कला के बंधन में नहीं बांधना चाहतीं। दीपिका की भगवान कृष्ण की कपड़े की पेंटिंग तीन दिवसीय कला प्रदर्शनी अलंकार -2 में आने वाले अधिकांश दर्शकों का ध्यान आकर्षित कर रही है, जिसका उद्घाटन 18 नवंबर को बेंगलुरु के चित्रकला परिषद में किया गया। 

दीपिका ने बताया कि पेंटिंग में प्राकृतिक रंगों का इस्तेमाल किया गया है और यह उदयपुर की प्रसिद्ध पिचवई कला पर आधारित है। प्रदर्शनी का अनावरण जीतो लेडीज विंग नॉर्थ की चेयरपर्सन बिंदू रायसोनी; पत्रकार लेखिका अनुभा जैन, अंतर्राष्ट्रीय सेवा रोटरी बैंगलोर की निदेशक और ब्लॉगर चारु सरीन गुज्जल ने किया।

मुख्य अतिथि के रूप में पत्रकार लेखिका अनुभा जैन ने कहा, 'यह एक सोलो या एकल कला प्रदर्शनी है और मैं 'सोलो' शब्द पर जोर दे रही हूं क्योंकि एक लेखक के रूप में मैं एक कलाकार के कला के प्रति समर्पण को जानती हूं। लेखन और पेंटिंग बहुत ही अकेले में शांति से किया जाने वाली साधना है जिसमें बहुत धैर्य, शांति की आवश्यकता होती है।'

ऑयल, एक्रिलिक और पानी सभी कला माध्यमों में चित्रित, दीपिका का सबसे आकर्षक कला रूप राजस्थान की मांडना कला है जो लगभग उनके सभी चित्रों में प्रदर्शित होती है। गोल्डन एम्बॉस्ड मांडना कला को दीपिका के चित्रों में पोशाक डिजाइन, आभूषण के टुकड़े, या पेंटिंग में आधुनिक कला केरूप में देखा जा सकता है।

दीपिका भंसाली जैन की इस सोलो आर्ट गैलरी में सकारात्मकता और आशा पर आधारित 50 से अधिक पेंटिंग प्रदर्शित की गई हैं। एक नेक काम के रूप में चित्रकार ने घोषणा की है कि कला की बिक्री की 25 प्रतिशत राशि अनाथ आश्रम में दान में दी जायेगी। इस अवसर पर वरिष्ठ कलाकार एमजी डोडामनी और श्रीधर कोमरावली और शिक्षाविद् केके भंसाली भी उपस्थित थे। गौरतलब है कि कई पुरस्कारों से सम्मानित दीपिका ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी कला का प्रदर्शन किया है।

Web Title: Three-day art exhibition in Bengaluru, painter artist Deepika's painting of Lord Krishna made of famous Pichwai art enthralled

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे