This country is as much opposition to BJP and Modi as it is, the CAA movement brings disrepute abroad: Swami Ramdev | यह देश जितना BJP और मोदी का है उतना ही विपक्ष का है, CAA आंदोलन से विदेश में होती है बदनामी: स्वामी रामदेव
यह देश जितना BJP और मोदी का है उतना ही विपक्ष का है, CAA आंदोलन से विदेश में होती है बदनामी: स्वामी रामदेव

Highlightsरामदेव से जब एंकर ने पूछा कि क्या वह आजीवन सुरक्षा भी देते हैं तो उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा है कि ''हम आजीवन सुरक्षा दे देते हैं।'इसी के साथ रामदेव ने कहा कि वह देशहित की बात में मोदी जी के साथ हैं।

योग गुरु रामदेव ने एक टीवी साक्षात्कार में कहा कि यह देश जितना BJP और मोदी का है उतना ही यह देश विपक्ष का भी है। इसके अलावा, एनडीटीवी को दिए अपने साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि  CAA जैसे आंदोलनों से विदेश में अपने देश की बदनामी होती है।

इससे पहले एक साक्षात्कार में रामदेव स्वामी ने कहा था कि अभिनेता नसीरुद्दीन शाह डर रहे हैं, इसलिए उन्हें पूरे परिवार के साथ पतंजलि में आकर बसने के लिए आमंत्रित कर लिया है। समाचार चैनल आजतक को दिए इंटरव्यू में रामदेव संशोधिक नागरिकता कानून के मुद्दे पर अपने विचार रख रहे थे तभी उन्होंने नसीरुद्दीन को लेकर बयान दिया।

इंटरव्यू में एक स्थान पर रामदेव ने कहा, ''जो हिंदुस्तान का नागरिक है, उसको डर किस बात का.. जब मुझे डर नहीं, ऐसे किसी मुसलमान को भी डर नहीं होना चाहिए.. और इस देश का जो देशभक्त मुसलमान है.. जो समझदार मुसलमान है, जिसको कोई बहका नहीं सकता, बरगला नहीं सकता.. वो डर भी नहीं रहा।'' इतना कहते हुए रामदेव आगे बोले, ''नसीरुद्दीन साहब डर रहे हैं न.. मैंने उनको सपरिवार पतंजलि में आमंत्रित कर लिया है कि पूरी फैमिली के साथ मेरे यहां आके बस जाओ..।'' 

रामदेव से जब एंकर ने पूछा कि क्या वह आजीवन सुरक्षा भी देते हैं तो उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा है कि ''हम आजीवन सुरक्षा दे देते हैं।'' इसी के साथ रामदेव ने कहा कि वह देशहित की बात में मोदी जी के साथ हैं।

बता दें कि हाल में अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने संशोधित नागरिकता कानून के मुद्दे पर कहा था कि वह चिंतित नहीं, बल्कि नाराज हैं। उन्होंने कहा था कि वह कई अन्य भारतीयों की तरह जन्म प्रमाण पत्र नहीं दिखा सकते। उन्होंने सवाल खड़ा किया था कि क्या 70 साल से यहां रहना उनके नागरिक होने के प्रमाण के लिए काफी नहीं है।

अभिनेता ने जोर देकर कहा था कि वह एक मुस्लिम के तौर पर नहीं, बल्कि एक चिंतित नागरिक के तौर पर बोल रहे हैं। अभिनेता कहा था कि उन्होंने सामाजिक और शैक्षणिक क्षेत्रों में देश के लिए योगदान दिया है और उनके परिवार की पांच पीढ़ियां इसी जमीन में दफन हैं।

नसीरुद्दीन शाह ने एक साक्षात्कार में कहा था, ‘‘मेरे पास जन्म प्रमाण पत्र नहीं है। मैं इसे पेश नहीं कर सकता। क्या इसका मतलब है कि हम सभी को बाहर कर दिया जाएगा। मुझे ऐसा कोई आश्वासन नहीं चाहिए कि मुसलमानों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैं चिंतित नहीं हूं।’’ 70 वर्षीय अभिनेता ने कहा, ‘‘अगर 70 साल तक यहां रहना मुझे भारतीय साबित नहीं करता है, तो मुझे नहीं पता कि इसका क्या मतलब है। मैं भयभीत नहीं हूं, मैं चिंतित नहीं हूं, मैं नाराज हूं कि इस तरह का कानून हम पर थोपा गया है।’’

English summary :
This country is as much opposition to BJP and Modi as it is, the CAA movement brings disrepute abroad: Swami Ramdev


Web Title: This country is as much opposition to BJP and Modi as it is, the CAA movement brings disrepute abroad: Swami Ramdev
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे