राजस्थान में तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ गठित होगा

By भाषा | Published: June 23, 2021 07:54 PM2021-06-23T19:54:26+5:302021-06-23T19:54:26+5:30

Third gender security cell will be formed in Rajasthan | राजस्थान में तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ गठित होगा

राजस्थान में तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ गठित होगा

Next

जयपुर, 23 जून राजस्थान सरकार ने राज्य में तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ (सेल) के गठन का निर्णय किया है। यह प्रकोष्ठ पुलिस महानिदेशक कार्यालय में होगा।

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य सरकार तृतीय लिंगी (ट्रांसजेंडर) समुदाय के अधिकारों के संरक्षण के प्रति संवेदनशील है तथा राज्य में इस तरह के लोगों के लिए सुरक्षा एवं न्याय का बेहतर माहौल बनाने के लिए वह कृतसंकल्प है। प्रवक्ता के अनुसार इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने राज्य में तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ (सेल) के गठन का निर्णय किया है और उन्होंने इसके लिए वित्त विभाग के प्रस्ताव का अनुमोदन कर दिया है।

प्रस्ताव के अनुसार, पुलिस महानिदेशक कार्यालय में यह तृतीय लिंगी सुरक्षा प्रकोष्ठ गठित किया जाएगा। प्रकोष्ठ में एक पुलिस निरीक्षक, एक पुलिस उपनिरीक्षक, दो कॉन्स्टेबल के अतिरिक्त संविदा आधार पर एक कॉउन्सलर अथवा मनोविज्ञानी परामर्शदाता और एक डाटा एंट्री ऑपरेटर सहित कुल छह व्यक्ति नियोजित किए जाएंगे।

इस प्रकोष्ठ में गैर-शासकीय सदस्य के रूप में ट्रांसजेंडर समुदाय के एक प्रतिनिधि को आवश्यकता होने पर बैठक के लिए अवैतनिक सदस्य के रूप में आमंत्रित किया जा सकेगा। नवसृजित पद आदेश जारी होने की तिथि से फरवरी, 2022 तक के लिए अस्थाई रूप से प्रभावी रहेंगे।

ट्रांसजेंडरों के अधिकारों की सुरक्षा अधिनियम-2019 के तहत गठित इस सेल का मुख्य कार्य ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के अधिकारों का संरक्षण एवं उनको सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ राज्य स्तरीय ट्रांसजेंडर न्याय बोर्ड और जिला ट्रांसजेंडर न्याय समितियों के बीच समन्वय करना होगा। यह प्रकोष्ठ ट्रांसजेंडर के विरूद्ध अपराधों की रोकथाम, निगरानी तथा इससे जुड़े मामलों को समय पर पंजीकृत कर जांच और अभियोजन सुनिश्चित करने का काम करेगा।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: Third gender security cell will be formed in Rajasthan

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे