The country is proud of the 'exemplary valor' of the paramilitary soldiers, the country will be 'forever indebted', salute courage: Shah | देश को अर्द्धसैनिक बल के जवानों की ‘अनुकरणीय वीरता’ पर गर्व, देश ‘हमेशा ऋणी’ रहेगा, साहस को सलामः शाह
लोधी रोड स्थित सीजीओ काम्प्लेक्स में बल के मुख्यालय में शाह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी।

Highlightsकेरिपुब के जवान देश की सुरक्षा के लिए विभिन्न क्षेत्रों में हमेशा अपने ध्येय वाक्य (मोटो) ‘सेवा’ एवं ‘निष्ठा’ के लक्ष्य के साथ रहते हैं।बल के जवानों और उनके परिजनों के साहस एवं बहादुरी के लिए मैं उन्हें सलाम करता हूं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को यहां स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (केरिपुब) के मुख्यालय का दौरा किया और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बल की संचालनात्मक तैयारियों की समीक्षा की।

शाह ने इस दौरे की कुछ तस्वीरें अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा कि देश को अर्द्धसैनिक बल के जवानों की ‘‘अनुकरणीय वीरता’’ पर गर्व है। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल में तीन लाख से अधिक जवान हैं और आंतरिक सुरक्षा एवं नक्सल विरोधी अभियान के लिए प्रमुल बल के रूप में नामित है।

शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘केरिपुब के जवान देश की सुरक्षा के लिए विभिन्न क्षेत्रों में हमेशा अपने ध्येय वाक्य (मोटो) ‘सेवा’ एवं ‘निष्ठा’ के लक्ष्य के साथ रहते हैं। बल के जवानों और उनके परिजनों के साहस एवं बहादुरी के लिए मैं उन्हें सलाम करता हूं।’’

लोधी रोड स्थित सीजीओ काम्प्लेक्स में बल के मुख्यालय में शाह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी और गुजरात के कच्छ के रण स्थित ‘सरदार चौकी’ की मिट्टी से भरे कलश पर माल्यार्पण किया। यह कलश मुख्यालय के प्रवेश द्वार पर रखा गया है ।

पाकिस्तान के हमले के दौरान 1965 में इस चौकी की सुरक्षा की जिम्मेदारी बल के पास थी। शाह ने कहा कि युवाओं को वीरता की इस कहानी से अवगत कराया जाना चाहिए। गृह मंत्री ने कहा कि अपने जीवन का बलिदान करने वाले सैनिकों का देश ‘हमेशा ऋणी’ रहेगा।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में गृह मंत्री बने शाह के लिए यह पहला मौका है जब उन्होंने देश के सबसे बड़े अर्द्धसैनिक बल के मुख्यालय का दौरा किया है । अधिकारियों ने बताया कि देश भर में केरिपुब की तैनाती के बारे में गृह मंत्री को जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि गृह मंत्री ने जम्मू कश्मीर तथा नक्सल प्रभावित राज्यों में बल की संचालनात्मक तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यालय आने पर शाह को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया।

Web Title: The country is proud of the 'exemplary valor' of the paramilitary soldiers, the country will be 'forever indebted', salute courage: Shah
भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करे