The Archbishop of Bengaluru directed the postponement of mass prayer programs in churches | बेंगलुरु के आर्कबिशप ने चर्चों में सामूहिक प्रार्थना कार्यक्रमों को स्थगित करने का निर्देश दिया
बेंगलुरु के आर्कबिशप ने चर्चों में सामूहिक प्रार्थना कार्यक्रमों को स्थगित करने का निर्देश दिया

बेंगलुरू, आठ अप्रैल कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर बेंगलुरु के आर्कबिशप पीटर मचाडो ने सात से 20 अप्रैल तक बेंगलुरू के शहरी और ग्रामीण जिलों के चर्चों में सार्वजनिक प्रार्थना कार्यक्रमों को स्थगित रखने का निर्देश दिया है।

आर्कबिशप ने सभी चर्चों और उनसे जुड़े संस्थानों को अपने संदेश में कहा कि छह अप्रैल को जारी सरकार के नए सख्त निर्देशों के तहत पुलिस विभाग ने सभी सार्वजनिक धार्मिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। ऐसे में उचित होगा कि हम सरकार के साथ सहयोग करें क्योंकि यह खुद हमारी सुरक्षा और लाभ के लिए अच्छा है।

उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान चर्च निजी यात्रा और प्रार्थना के लिए खुले रह सकते हैं। उन्होंने कहा कि पादरी धार्मिक कार्यक्रम कर सकते हैं लेकिन आम लोगों की भागीदारी बहुत कम या बिल्कुल नहीं हो।

उन्होंने अधिकतम सावधानी बरते जाने और मानक संचालन प्रक्रियाओं का कड़ाई से पालन किए जाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि अंतिम संस्कार से संबंधित कार्यक्रमों में भी 50 से अधिक लोगों को शामिल नहीं होना चाहिए।

Disclaimer: लोकमत हिन्दी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।

Web Title: The Archbishop of Bengaluru directed the postponement of mass prayer programs in churches

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे