गाजियाबाद की लड़की के साथ दिल्ली के फ्लैट में चार लोगों ने किया रेप, घूमाने के बहाने ले आए थे, तीन गिरफ्तार

By दीप्ती कुमारी | Published: August 2, 2021 08:42 AM2021-08-02T08:42:08+5:302021-08-02T10:20:08+5:30

दिल्ली के एक फ्लैट में चार लड़कों ने एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया और उसे धमकी दी कि अगर उसने इस मामले में किसी को कुछ भी बताया तो अंजाम बुरा होगा । साथ ही परिवार ने पुलिस पर प्राथमिक दर्ज न करने का आरोप लगाया ।

teen taken to delhi flat gang raped by four friends | गाजियाबाद की लड़की के साथ दिल्ली के फ्लैट में चार लोगों ने किया रेप, घूमाने के बहाने ले आए थे, तीन गिरफ्तार

फोटो सोर्स - सोशल मीडिया

Next
Highlightsलड़की को घुमने के बहाने फ्लैट पर ले गए थे आरोपी नाबालिग के साथ दुष्कर्म कर उसे किसी को कुछ भी न बताने की धमकी दी लड़की के परिवार वालों ने पुलिस पर शिकायत दर्ज न करने का आरोप लगाया

दिल्ली : गाजियाबाद की रहने वाली एक नाबालिग लड़की के साथ उसके चार दोस्तों ने पहले दुष्कर्म किया और बाद में उसे उसकी घर की मुख्य सड़क के पास छोड़ गए । चारों आरोपी उसे घुमाने के बहाने दिल्ली के एक  फ्लैट में ले गए और वहां लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया । मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जबकि चौथा आरोपी अभी भी फरार है ।  

घूमने के बहाने फ्लैट पर ले गए थे लड़की को 

लड़की के पिता ने मामले में शिकायत दर्ज कराई । वह एक निजी फर्म में कार्यरत है । कक्षा 9 में पढ़ने वाली छात्रा को एक आरोपी करण ने 27 जुलाई को उसके घर के पास एक मंदिर में बुलाया था । वहां से वह उसे पार्क में ले गया , जहां करण ने उसे कथित तौर पर अपने और तीन दोस्तों गोलू , लेफ्टी और सूरज से मिलवाया । इसके बाद युवक ने लड़की को अपनी कार में अपने साथ ड्राइव पर जाने के लिए राजी कर लिया लेकिन वे उसे दिल्ली के कोंडली इलाके के एक फ्लैट में ले गए । वहां चारों युवकों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया । सभी आरोपियों की उम्र 20 से कम थी ।

 परिवार ने पुलिस को शिकायत में बताया कि आरोपी ने लड़की को उसके घर की मुख्य सड़क पर गिरा दिया और धमकी दी कि अगर उसने इस घटना के बारे में किसी को कुछ नहीं बताया तो इसका बुरा अंजाम होगा । हालांकि लड़की ने अपने माता पिता पर भरोसा किया और अपने साथ हुए दुर्व्यवहार के बारे में सब कुछ बता दिया।

पुलिस ने शिकायत दर्ज करने से किया इनकार

कथित तौर पर इसके बाद पुलिस में शिकायत दर्ज करने से मना कर लिए दिया लड़की के परिवार के एक सदस्य ने दावा किया कि स्थानीय पुलिस थाने के पुलिसकर्मी ने उन्हें शिकायत से एक आरोपी का नाम हटाने के लिए मनाने की कोशिश की।

लड़की के रिश्तेदार ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जब हम पुलिस थाने में रिपोर्ट लिखाने गए तो पुलिस ने हमारे साथ अनुचित व्यवहार किया उन्होंने हमारी शिकायत को दो बार पाड़ा और हमें कई बार चले जाने को कहा बाद में हमने कुछ वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क किया जिन्होंने हमें प्राथमिकी दर्ज कराने में मदद की।

इंदिरापुरम के सर्कल अधिकारी अभय कुमार मिश्रा ने कहा कि लड़की का मेडिकल परीक्षण किया गया था लेकिन अभी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि चारों आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना), 363 (अपहरण) , 376 बलात्कार और पोक्सो अधिनियम के प्रासंगिक प्रावधानों के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

जब पुलिस से शिकायत दर्ज करने में देरी के मामले में लगे आरोपों के बारे में पूछा गया तो मिश्रा ने कहा हां कि हमें उनके बयान दर्ज करने के लिए परिवार को पुलिस स्टेशन बुलाया था लेकिन वह अभी तक नहीं आए हैं । प्रारंभिक निष्कर्ष पुलिस के व्यवहार में किसी तरह की कमी का संकेत नहीं देते हैं । अलग एक जांच चल रही है और जो भी लोग दोषी पाए जाएंगे । उनके खिलाफ उचित कार्यवाही की जाएगी । फरा चौथे आरोपी पर मिश्रा ने कहा कि पुलिस की टीम गठित कर दी गई है । उसे जल्दी पकड़ लिया जाएगा।

Web Title: teen taken to delhi flat gang raped by four friends

भारत से जुड़ी हिंदी खबरों और देश दुनिया खबरों के लिए यहाँ क्लिक करे. यूट्यूब चैनल यहाँ इब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा लाइक करे